उल्टी और जी मिचलाना रोकने के 7 घरेलू उपाय!

7 Home Remedies To Stop Vomiting And Nausea!
उल्टी और जी मिचलाना रोकने के 7 घरेलू उपाय!

उल्टी और मतली आम लक्षण हैं जो विभिन्न कारकों के कारण हो सकते हैं, जिनमें अपच, भोजन विषाक्तता, वायरल संक्रमण, गर्भावस्था और कुछ चिकित्सा स्थितियां शामिल हैं। जबकि ये लक्षण काफी असहज और विघटनकारी हो सकते हैं, ऐसे कई प्रभावी घरेलू उपचार हैं जो उल्टी और मतली को कम करने में मदद कर सकते हैं।

आज हम 7 प्राकृतिक उपचारों के बारे में बात करेंगे जो राहत प्रदान कर सकते हैं और समग्र कल्याण को बढ़ावा दे सकते हैं।

अदरक:

उल्टी और मतली सहित पाचन संबंधी समस्याओं से निपटने के लिए अदरक का उपयोग सदियों से किया जाता रहा है। आप अदरक का विभिन्न रूपों में सेवन कर सकते हैं, जैसे कि अदरक की चाय या बस ताजा अदरक के टुकड़े को चबाकर।

पुदीना:

youtube-cover

पुदीना उल्टी और मतली को कम करने के लिए एक और बेहतरीन प्राकृतिक उपचार है। इसमें मेन्थॉल होता है, जिसमें शांत करने वाले गुण होते हैं जो पेट की मांसपेशियों को शांत कर सकते हैं और मतली की अनुभूति को कम कर सकते हैं। आप राहत पाने के लिए पुदीने की चाय पी सकते हैं, पुदीने की कैंडी चूस सकते हैं।

सेब का सिरका:

सेब का सिरका (ACV) उल्टी और मतली को कम करने में भी प्रभावी हो सकता है। ACV पेट में पीएच स्तर को संतुलित करने में मदद करता है, उचित पाचन को बढ़ावा देता है और असुविधा को कम करता है। एक गिलास पानी में एक बड़ा चम्मच कच्चा, बिना फ़िल्टर किया हुआ ACV मिलाएं और इसे धीरे-धीरे पिएं। इस उपाय को आवश्यकतानुसार दोहराया जा सकता है, लेकिन यदि आप बिगड़ते लक्षणों का अनुभव करते हैं, तो उपयोग बंद कर दें।

सौंफ:

सौंफ में कार्मिनिटिव गुण होते हैं जो उल्टी और मतली सहित गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल मुद्दों को दूर करने में मदद कर सकते हैं। इन बीजों में एनेथोल होता है, जो पेट की मांसपेशियों को आराम देता है और ऐंठन को कम करता है। भोजन के बाद आधा चम्मच सौंफ चबाएं या सौंफ की चाय पिएं, इससे पाचन में मदद मिलती है और मतली से बचाव होता है।

नींबू:

नींबू मतली से मुकाबला कर सकती है।
नींबू मतली से मुकाबला कर सकती है।

नींबू में एक ताज़गी भरी महक होती है जो प्रभावी रूप से मतली से मुकाबला कर सकती है। नींबू की खट्टे सुगंध लार के उत्पादन को उत्तेजित करने में मदद करती है, जिससे मतली की भावना कम हो सकती है। एक गिलास गर्म पानी में ताजा नींबू का रस निचोड़ें और इसे धीरे-धीरे पिएं। आप ताज़े कटे हुए नींबू की महक भी सूंघ सकते हैं या मतली से राहत पाने के लिए डिफ्यूज़र में नींबू के आवश्यक तेल का उपयोग कर सकते हैं।

ब्लैंड फूड्स:

उल्टी और मतली का अनुभव होने पर, नरम खाद्य पदार्थों को लेने की सलाह दी जाती है जो पचाने में आसान होते हैं। इनमें सादा चावल, उबले आलू या सूखे टोस्ट शामिल हैं। ये खाद्य पदार्थ पाचन तंत्र को प्रभावित किए बिना आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करते हैं, और वे पेट को शांत करने और उल्टी को रोकने में मदद कर सकते हैं।

जलयोजन:

निर्जलीकरण उल्टी और मतली को खराब कर सकता है, इसलिए उचित पानी पीते रहना महत्वपूर्ण है। पूरे दिन पानी, हर्बल चाय, या पतला फलों के रस जैसे स्पष्ट तरल पदार्थों का सेवन करें। एक बार में बड़ी मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन करने से बचें, क्योंकि इससे और असुविधा हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
App download animated image Get the free App now