डायबिटीज नियंत्रण के लिए ये 7 प्राकृतिक उपाय

डायबिटीज नियंत्रण के लिए ये 7 प्राकृतिक उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
डायबिटीज नियंत्रण के लिए ये 7 प्राकृतिक उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

मधुमेह एक पुरानी स्थिति है जिसके लिए स्वस्थ सीमा के भीतर रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने के लिए सावधानीपूर्वक प्रबंधन की आवश्यकता होती है। चिकित्सा उपचार के साथ, कुछ प्राकृतिक उपचार मधुमेह प्रबंधन के पूरक हो सकते हैं। ये उपाय, जब उचित रूप से उपयोग किए जाते हैं, रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। आइए मधुमेह के प्रबंधन के 7 प्राकृतिक तरीकों का पता लगाएं।

डायबिटीज नियंत्रण के लिए ये 7 प्राकृतिक उपाय (7 Natural Remedies To Control Diabetes In Hindi)

स्वस्थ आहार

मधुमेह प्रबंधन के लिए एक संतुलित आहार महत्वपूर्ण है। साबुत अनाज, फल, सब्जियां और फलियां जैसे उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थों के सेवन पर ध्यान दें। इन खाद्य पदार्थों का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, जिसका अर्थ है कि उनका रक्त शर्करा के स्तर पर हल्का प्रभाव पड़ता है।

नियमित व्यायाम

नियमित शारीरिक गतिविधि में शामिल होने से इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार हो सकता है और रक्त शर्करा के स्तर को प्रबंधित करने में मदद मिल सकती है। प्रति सप्ताह कम से कम 150 मिनट की मध्यम-तीव्रता वाले व्यायाम करने का लक्ष्य रखें, जैसे तेज चलना, साइकिल चलाना या तैरना। अपनी विशिष्ट स्थिति के लिए सबसे उपयुक्त व्यायाम दिनचर्या निर्धारित करने के लिए एक स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करें।

हर्बल अनुपूरक

कुछ हर्बल सप्लीमेंट्स ने मधुमेह को प्रबंधित करने में मदद करने की क्षमता दिखाई है। उदाहरणों में करेला, मेथी, दालचीनी और जिनसेंग शामिल हैं। ये जड़ी बूटियां इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करने और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकती हैं। हालांकि, किसी भी हर्बल सप्लीमेंट का उपयोग करने से पहले स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करना आवश्यक है, क्योंकि वे दवाओं के साथ परस्पर क्रिया कर सकते हैं या प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं।

सेब का सिरका

भोजन के बाद रक्त शर्करा के स्तर को कम करने की क्षमता के लिए एप्पल साइडर सिरका का अध्ययन किया गया है। भोजन से पहले थोड़ी मात्रा में पतला सेब साइडर सिरका लेने से इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करने में मदद मिल सकती है। हालांकि, रक्त शर्करा के स्तर की बारीकी से निगरानी करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि सिरका का व्यक्तियों पर अलग-अलग प्रभाव हो सकता है।

तनाव प्रबंधन

पुराना तनाव रक्त शर्करा नियंत्रण को प्रभावित कर सकता है। तनाव प्रबंधन तकनीकों का अभ्यास करें जैसे कि ध्यान, गहरी साँस लेने के व्यायाम, योग, या अपने पसंदीदा शौक में संलग्न होना। तनाव के स्तर को कम करके आप बेहतर रक्त शर्करा नियंत्रण बनाए रखने में मदद कर सकते हैं।

पर्याप्त नींद

मधुमेह प्रबंधन के लिए पर्याप्त गुणवत्ता वाली नींद लेना महत्वपूर्ण है। खराब नींद पैटर्न और अपर्याप्त नींद इंसुलिन संवेदनशीलता और ग्लूकोज चयापचय को प्रभावित कर सकती है। प्रति रात 7-9 घंटे की अच्छी नींद लेने का लक्ष्य रखें और एक सुसंगत नींद की दिनचर्या स्थापित करें।

वज़न प्रबंधन

स्वस्थ वजन बनाए रखना मधुमेह प्रबंधन के लिए फायदेमंद होता है। अतिरिक्त वजन कम करने से इंसुलिन संवेदनशीलता और रक्त शर्करा नियंत्रण में सुधार हो सकता है। स्वस्थ वजन हासिल करने और बनाए रखने के लिए संतुलित आहार अपनाएं और नियमित व्यायाम करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now