सुबह उठने पर गला सूखा-सूखा लगे तो हो सकते हैं ये कारण, अपनाएं ये 8 आसान नुस्खे

सुबह उठने पर गला सूखा-सूखा लगे तो हो सकते हैं ये कारण, अपनाएं ये आसान नुस्खे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
सुबह उठने पर गला सूखा-सूखा लगे तो हो सकते हैं ये कारण, अपनाएं ये 8 आसान नुस्खे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सूखे गले के साथ जागना विभिन्न कारकों के कारण हो सकता है, जिसमें निर्जलीकरण, सोते समय मुंह से सांस लेना या आपके शयनकक्ष में हवा की गुणवत्ता की समस्या शामिल है। कुछ सरल उपायों को लागू करने से इस असुविधा को कम किया जा सकता है और आपको अपने दिन की शुरुआत तरोताजा महसूस करने में मदद मिलेगी।

सुबह उठने पर गला सूखा-सूखा लगे तो हो सकते हैं ये कारण, अपनाएं ये 8 आसान नुस्खे (8 Easy Fixes for Dry Throats In Hindi)

हाइड्रेटेड रहें: सुनिश्चित करें कि आप पूरे दिन पर्याप्त मात्रा में पानी पीते हैं। शुष्कता को रोकने में जलयोजन महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, इसलिए सोने से पहले घूंट-घूंट करके पानी पिएं और जागने पर पीने के लिए अपने बिस्तर के पास एक गिलास पानी रखें।

हवा को नम करें: शुष्क हवा गले की शुष्कता को बढ़ा सकती है। अपने शयनकक्ष में ह्यूमिडिफायर का उपयोग करने पर विचार करें, विशेष रूप से शुष्क मौसम के दौरान या कम आर्द्रता वाले मौसम में। यह हवा में नमी जोड़ने में मदद करता है, जिससे सूखे गले के साथ जागने की संभावना कम हो जाती है।

सोने की स्थिति को समायोजित करें: कभी-कभी, सोने की स्थिति मुंह से सांस लेने में योगदान कर सकती है, जिससे गला सूख जाता है। अपनी नाक से सांस लेने को प्रोत्साहित करने के लिए अपनी पीठ के बजाय करवट लेकर सोने का प्रयास करें, जिससे गले में नमी बनाए रखने में मदद मिलती है।

जलन पैदा करने वाले पदार्थों से बचें: अपने शयनकक्ष में धुआं, एलर्जी या धूल जैसे संभावित जलन पैदा करने वाले कारकों के संपर्क में आना कम करें। अपने सोने के वातावरण को साफ़ और इन परेशानियों से मुक्त रखने से गले के सूखने को रोकने में मदद मिल सकती है।

सेलाइन नेज़ल स्प्रे का उपयोग करें: यदि आप अक्सर नाक बंद होने या सांस लेने में कठिनाई के कारण सूखे गले के साथ उठते हैं, तो अपने नाक मार्ग को साफ करने के लिए सोने से पहले सेलाइन नेज़ल स्प्रे का उपयोग करने पर विचार करें। यह आपकी नाक से सांस लेने को प्रोत्साहित कर सकता है, जिससे मुंह से सांस लेना कम हो सकता है।

कैफीन और अल्कोहल सीमित करें: कैफीन और अल्कोहल दोनों निर्जलीकरण में योगदान कर सकते हैं। सेवन सीमित करने से, विशेष रूप से सोने के समय के करीब, रात भर जलयोजन स्तर बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

थ्रोट लोजेंजेस या स्प्रे आज़माएँ: गले के लिए लोज़ेंजेज़ या स्प्रे अपने पास रखें। सोने से पहले इनका उपयोग आपके गले को आराम देने और नमी प्रदान करने में मदद कर सकता है।

पेशेवर सलाह लें: यदि सूखापन बना रहता है या खर्राटे लेना, निगलने में कठिनाई या लगातार थकान जैसे अन्य लक्षणों के साथ है, तो स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करने की सलाह दी जाती है। ये लक्षण किसी अंतर्निहित स्थिति का संकेत दे सकते हैं जिस पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

इन सरल समायोजनों को अपनी दिनचर्या में शामिल करके, आप सुबह गले की शुष्कता को कम कर सकते हैं और सुबह उठकर अधिक आरामदायक और अच्छा आराम महसूस कर सकते हैं। याद रखें, स्थायी राहत का अनुभव करने के लिए इन उपचारों की निरंतरता महत्वपूर्ण है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now