Create

इन बीमारियों का रामबाण इलाज है एलोवेरा, जानें इस्तेमाल का तरीका और फायदे : In Bimariyon Ka Ramban Ilaj Hai Aloe Vera, Jane Istemal Ka Tarika Aur Fayde

इन बीमारियों का रामबाण इलाज है एलोवेरा, जानें इस्तेमाल का तरीका और फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
इन बीमारियों का रामबाण इलाज है एलोवेरा, जानें इस्तेमाल का तरीका और फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
Naina Chauhan

एलोवेरा (Aloevera) जिसमें कई ऐसे गुण होते हैं जिसकी वजह से सेहत की कई समस्याओं में यह रामबाण इलाज के रूप में काम करता हैं। एलोवेरा स्किन और बालों के लिए बहुत लाभकारी होता है। वहीं कुछ ऐसी बीमारियां भी हैं जिसमें एलोवेरा बहुत उपयोगी माना जाता है। जानते हैं उनके बारे में।

इन बीमारियों का रामबाण इलाज है एलोवेरा, जानें इस्तेमाल का तरीका और फायदे

एग्जिमा में - For Eczema - एग्जिमा की समस्या में एलोवेरा काफी कारगर होता है। दरअसल, एलोवेरा एग्जिमा में ड्राई स्किन की समस्या को दूर करता है वहीं , ये स्किन को अंदर से मॉइस्चराइज करता है।

मुंह के छालों में- For Mouth Ulcers - एलोवेरा का अर्क माउथवॉश का एक सुरक्षित और प्रभावी विकल्प है। इसमें विटामिन सी पाया जाता है, जो दांतों के बैक्टीरिया को साफ करते हैं और मसूढ़ों को स्वस्थ रखते हैं। वहीं, एलोवेरा अलावा मुंह के छालों में भी बहुत फायदेमंद है, क्योंकि ये एंटीबैक्टीरियल होने के साथ जलन को कम करने वाला भी है। इस तरह ये छालों को सही करता है और छालों के दर्द और जलन को कम करता है। इसके लिए जीभ और मुंह में फ्रेश एलोवेरा जेल लगाएं।

एसिड रिफेल्स में - For GERD - गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स रोग (जीईआरडी) एक पाचन विकार है, इस समस्या में पेट का एसिडि ऊपर की ओर चढ़ने लगता है। ऐसे में इस परेशानी को दूर करने के लिए एलोवेरा का सेवन लाभकारी है। इससे गैस और एसिडिटी को कम करने में मदद मिलती है। इसके साथ ही पेट में प्रड्यूस एसिड को ये न्यूट्रलाइज करता है और पेट को ठंडा करता है। इसके लिए एसिड रिफेल्स होने पर ठंडा-ठंडा एलोवेरा जूस पिएं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan

Comments

Fetching more content...