अन‍िद्रा का इलाज

अन‍िद्रा का इलाज (फोटो - sportskeeda hindi)
अन‍िद्रा का इलाज (फोटो - sportskeeda hindi)

आज के समय में लोगों को अनिद्रा यानि इंसोमनिया की समस्या बढ़ती जा रही है। अगर अनिद्रा ज्यादा दिनों तक हावी रह जाए, तो पीड़ित कई तरह की शारीरिक समस्याओं की चपेट में आ सकता है। हार्मोनल बदलाव, दर्द, बीमारी, लाइफस्‍टाइल से जुड़ी आदतें आदि‍ कारणों से अन‍िद्रा की श‍िकायत हो सकती है। अनिद्रा insomnia की समस्या दो प्रकार की होती है। एक एक्यूट इंसोमनिया और दूसरा क्रॉनिक इंसोमनिया।

एक्यूट इंसोमनिया : अनिद्रा की यह स्थिति कुछ दिनों या कुछ हफ्तों तक व्यक्ति को परेशान कर सकती है। यह अनिद्रा का आम प्रकार है, जो काम या पारिवारिक दवाब के कारण हो सकता है।

क्रॉनिक इंसोमनिया : यह अनिद्रा की गंभीर अवस्था है, जो महीने भर से ज्यादा परेशान कर सकती है। कई मामलों में अनिद्रा का यह प्रकार किसी अन्य शारीरिक बीमारी के दुष्प्रभाव के रूप में आ सकता है।

अन‍िद्रा का इलाज : Anindra Ka Ilaj In Hindi

गर्म पानी से स्नान करें - नींद आने के व्यक्ति गर्म पानी से स्नान भी कर सकता है। गर्म पानी शरीर की थकान को दूर कर रिफ्रेश कर सकता है, जिससे आरामदायक नींद लेने में मदद मिल सकती है।

अरंडी का तेल - अरंडी के तेल का सेहत के लिए लाभकारी होता है। इससे कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर किया जा सकता है। उन्हीं में अनिद्रा की समस्या भी शामिल है।

लहसुन - अनिद्रा के समस्या में लहसुन का उपयोग किया जा सकता है। यह एक औषधि की तरह काम कर सकता है, जो नींद न आने की शिकायत को दूर कर सकता है।

मेथी के बीज - अनिद्रा की समस्या में मेथी के बीज का उपयोग किया जा सकता है। दरअसल, इसमें मेलाटोनिन (Melatonin) मौजूद होता है, जो नींद की गुणवत्ता को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

तिल का तेल - तिल का तेल चिंता जैसी समस्या को कम कर अच्छी नींद में सहायक हो सकता है। इसके उपयोग से चिंता की वजह से होने वाली अनिद्रा की समस्या में राहत मिल सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment