अर्जुन की छाल से प्राप्त होने वाले 5 स्वास्थ्य लाभ

अर्जुन की छाल से प्राप्त होने वाले 5 स्वास्थ्य लाभ (फोटो - sportskeedaहिंदी)
अर्जुन की छाल से प्राप्त होने वाले 5 स्वास्थ्य लाभ (फोटो - sportskeedaहिंदी)

अर्जुन के पेड़ (Arjun's tree) की बाहरी परत को अर्जुन की छाल (Arjuna's bark) कहा जाता है। अर्जुन की छाल को पेड़ से अलग कर औषधीय उपयोग में लाया जाता है। इस लेख के माध्यम से हम अर्जुन की छाल से मिलने वाले 5 स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानकारी देना चाहते हैं।

अर्जुन की छाल से प्राप्त होने वाले 5 स्वास्थ्य लाभ (5 health benefits obtained from Arjuna bark in hindi)

youtube-cover

1. मधुमेह में उपयोगी (Useful in diabetes)

अर्जुन की छाल शुगर के स्तर को कम करने और इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करने में फायदेमंद हो सकता है। हाइपरग्लेसेमिया के लिए अर्जुन की छाल का अर्क फायदेमंद हो सकता है। यह मधुमेह वाले व्यक्तियों में उपयोगी हो सकता है। हालांकि यदि आप मधुमेह से पीड़ित हैं, तो आपको अपने लक्षणों में मदद करने के लिए अर्जुन की छाल या किसी अन्य जड़ी बूटी का उपयोग करने से पहले अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से परामर्श करने की आवश्यकता है।

2. दिल के स्वास्थ्य को बनाए रखे (Maintains heart health)

दिल के स्वास्थ्य को बनाए रखने में भी अर्जुन की छाल फायदेमंद होती है। इसमें ट्राइटरपेनॉइड (triterpenoids), एक खास रसायन पाया जाता है जिसकी उपस्थिति के कारण ही अर्जुन छाल दिल के खतरे को दूर रखने में मददगार साबित हो सकती है। यह उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्रोल के साथ ही दिल से संबंधित रोगो के कारण होने वाले सीने के दर्द में भी राहत दिलाने का काम कर सकती है।

3. अल्सर में उपयोगी (Useful in ulcers)

पेट से जुड़े अल्सर के मामलों में अर्जुन की छाल फायदेमंद होती है। इसमें गैस्ट्रोप्रोटेक्टिव (Gastroprotective) और साइटोप्रोटेक्टिव (Cytoprotective) का गुण मौजूद होता है। अर्जुन की छाल के ये दोनों गुण संयुक्त रूप से पेट के अल्सर में राहत दिलाने का काम कर सकते हैं। अल्सर का घरेलू इलाज करने में अर्जुन की छाल का अर्क या चूर्ण का उपयोग कारगर होता है।

4. UTI में कारगर (Effective in UTI)

यूरिनरी इन्फेक्शन - UTI (मूत्र मार्ग संक्रमण) की समस्या में अर्जुन की छाल के चूर्ण का सेवन उपयोगी होता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल (antibacterial) गुण पाया जाता है। इस गुण के कारण अर्जुन की छाल मूत्र मार्ग में संक्रमण पैदा करने वाले सूक्ष्म बैक्टीरिया को नष्ट करने में मदद कर सकती है।

5. वजन घटाने में फायदेमंद (Beneficial in weight loss)

मोटापे की समस्या को रोकने के लिए भी अर्जुन की छाल को इस्तेमाल में लाया जा सकता है। अर्जुन की छाल का चूर्ण का उपयोग अधिक चर्बी को घटाने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद हाइपोलिपिडेमिक (hypolipidemic) गुण कारगर साबित हो सकते हैं। यह बढ़ते हुए वजन को नियंत्रित करने में भी सहायक हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now