Create

दूध में अश्वगंधा मिलाकर पीने के फायदे : Dudh Me Ashwagandha Mila Kar Pine Ke Fayde

दूध में अश्वगंधा पाउडर मिलाकर पीने से सेहत को मिलते हैं ये फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
दूध में अश्वगंधा पाउडर मिलाकर पीने से सेहत को मिलते हैं ये फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
Naina Chauhan

अश्वगंधा (Ashwagandha ) और दूध का एक साथ सेवन करने से व्यक्ति की सेहत को कई लाभ मिलते हैं। अश्वगंधा में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-स्ट्रेस और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। वहीं दूध में प्रोटीन, कैल्शियम, राइबोफ्लेविन, विटामिन ए, विटामिन डी, विटामिन के और विटामिन ई पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयोडीन और कई खनिज तत्व भी पाए जाते हैं, जो व्यक्ति के इम्यून सिस्टम (immune system) को मजबूत बनाता है। अगर आप अश्वगंधा और दूध का सेवन साथ में करते हैं तो इससे आपका पाचन तंत्र भी ठीक रहता है और ये शरीर की कमजोरी को दूर करने में आपकी मदद करता है। जानते हैं दूध और अश्वगंधा से होने वाले फायदे।

दूध में अश्वगंधा मिलाकर पीने के फायदे

पाचन तंत्र के लिए - आजकल कई लोग में पाचन से जुड़ी समस्यां देखने को मिलती है। ऐसे में इस परेशानी को दूर करने के लिए दूध और अश्वगंधा का सेवन करना बहुत फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि दूध और अश्वगंधा में ऐसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो पेट से जुड़ी समस्याओं को दूर कर सकते हैं, इसके साथ ही अपच और कब्ज जैसी परेशानियों से आराम दिला सकते हैं।

इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने के लिए - अगर व्यक्ति का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है, तो ऐसे में आप कई बीमारियों से बच सकते हैं। दरअसल दूध और अश्वगंधा में विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो शरीर को अंदर से मजबूत बनाते हैं।

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए - लोगों की बढ़ती उम्र के साथ हड्डियां भी कमजोर हो सकती हैं। ऐसे में आपको अपने आहार में अश्वगंधा और दूध जरूर शामिल करना चाहिए। क्योंकि इसमें मौजूद प्रोटीन, फास्फोरस और कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बना सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan

Comments

Fetching more content...