खराब कोलेस्ट्रॉल से हो सकता है नसों में ब्लॉकेज, जाने कैसे करें बचाव

खराब कोलेस्ट्रॉल से हो सकता है नसों में ब्लॉकेज, जाने कैसे करें बचाव (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
खराब कोलेस्ट्रॉल से हो सकता है नसों में ब्लॉकेज, जाने कैसे करें बचाव (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने और नसों में रुकावट, जिसे एथेरोस्क्लेरोसिस (atherosclerosis) के रूप में जाना जाता है, को रोकने के लिए खराब कोलेस्ट्रॉल से बचना आवश्यक है। खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को प्रबंधित करने और कम करने में आपकी मदद करने के लिए यहां कुछ प्रभावी रणनीतियां दी गई हैं:-

खराब कोलेस्ट्रॉल से हो सकता है नसों में ब्लॉकेज, जाने कैसे करें बचाव (Avoid Bad Cholesterol With These 12 Remedies In Hindi)

संतुलित आहार: फलों, सब्जियों, साबुत अनाज और दुबले प्रोटीन से भरपूर हृदय-स्वस्थ आहार अपनाएं। संतृप्त वसा को सीमित करें और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों और तली हुई वस्तुओं में पाए जाने वाले ट्रांस वसा से बचें।

स्वस्थ वसा: असंतृप्त वसा चुनें, जैसे कि जैतून का तेल, एवोकाडो, नट्स और बीज। ये वसा अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) के स्तर को बढ़ाने और खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं।

चीनी और रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट कम करें: अधिक चीनी के सेवन से ट्राइग्लिसराइड का स्तर बढ़ सकता है, जो बढ़े हुए खराब कोलेस्ट्रॉल से जुड़ा होता है। मीठे पेय और परिष्कृत कार्ब्स वाले खाद्य पदार्थों का सेवन कम से कम करें।

नियमित व्यायाम: प्रति सप्ताह कम से कम 150 मिनट मध्यम-तीव्रता वाले एरोबिक व्यायाम या 75 मिनट तीव्र-तीव्रता वाले व्यायाम में संलग्न रहें। शारीरिक गतिविधि एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकती है और एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकती है।

स्वस्थ वजन बनाए रखें: अधिक वजन होने से खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ सकता है। संतुलित आहार और नियमित व्यायाम के माध्यम से स्वस्थ वजन प्राप्त करना और बनाए रखना महत्वपूर्ण है।

धूम्रपान छोड़ें: धूम्रपान रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाता है और एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करता है, जिससे धमनियों में खराब कोलेस्ट्रॉल का निर्माण आसान हो जाता है।

शराब का सेवन सीमित करें: अत्यधिक शराब के सेवन से ट्राइग्लिसराइड का स्तर बढ़ सकता है और उच्च रक्तचाप हो सकता है। यदि आप शराब पीना चुनते हैं तो संयम महत्वपूर्ण है।

घुलनशील फाइबर का सेवन बढ़ाएँ: घुलनशील फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ, जैसे जई, फलियां और कुछ फल, एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद कर सकते हैं।

ओमेगा-3 फैटी एसिड: अपने आहार में ओमेगा-3 फैटी एसिड के स्रोतों को शामिल करें, जैसे वसायुक्त मछली (सैल्मन, मैकेरल), चिया बीज और अलसी के बीज। ओमेगा-3 को ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने और हृदय की रक्षा करने के लिए जाना जाता है।

नियमित स्वास्थ्य जांच: नियमित रूप से अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर की निगरानी करें और कोलेस्ट्रॉल प्रबंधन के लिए एक व्यक्तिगत योजना विकसित करने के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

तनाव प्रबंधन: दीर्घकालिक तनाव अस्वास्थ्यकर व्यवहार को जन्म दे सकता है और उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर में योगदान कर सकता है। ध्यान, योग या प्रकृति में समय बिताने जैसी तनाव कम करने वाली तकनीकों का अभ्यास करें।

दवा: यदि केवल जीवनशैली में बदलाव आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने के लिए अपर्याप्त है, तो आपका डॉक्टर इसे प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने में मदद के लिए स्टैटिन जैसी दवाएं लिख सकता है।

संतुलित आहार, नियमित व्यायाम और हानिकारक आदतों से परहेज सहित स्वस्थ जीवन शैली अपनाना, खराब कोलेस्ट्रॉल के निर्माण को रोकने और हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है। ये सकारात्मक परिवर्तन करके, आप नसों में रुकावट और संबंधित हृदय समस्याओं के जोखिम को काफी कम कर सकते हैं। व्यक्तिगत सलाह और मार्गदर्शन के लिए हमेशा अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से परामर्श लें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now