पथरी तोड़ने की दवा आयुर्वेदिक- Pathri Todne ki dawa Ayurvedic

ये है पथरी तोड़ने की बेहतरीन आयुर्वेदिक दवा
ये है पथरी तोड़ने की बेहतरीन आयुर्वेदिक दवा

Ayurvedic medicine to break stones in hindi: किडनी स्टोन की समस्या किसी को भी हो सकती है। इसमें इतना तेज दर्द होता है कि उसे सहन कर पाना मुश्किल हो जाता है। किडनी स्टोन की समस्या इधर बीच तेजी से उभरती है। पहले के समय में कई रोग बुढ़ापे में होते थे लेकिन, अब युवावस्था में ही लोग इन रोगों के शिकार होने लगे हैं। किडनी स्टोन भी पुराने वक्त में ज्यादातर बुजुर्ग अवस्था में ही होती थी। किडनी स्टोन होने पर पेट में किडनी के पास वाले हिस्से में असहनीय दर्द होता है। इसके साथ ही पेशाब करते समय दर्द के साथ ही जलन भी होता है या फिर पेशाब पीला होता है। किडनी स्टोन की समस्या को आयुर्वेद के जरिए ठीक किया जा सकता है।

पथरी तोड़ने की दवा आयुर्वेदिक

अश्वगंधा (ashwagandha)

पथरी को तोड़कर बाहर निकालने के लिए अश्वगंधा की जड़ों का गुनगुना रस पीने से लाभ मिलता है। इसके साथ ही दर्द की समस्या से भी राहत मिलता है। अश्वगंधा की जड़ों का रस को आंवले के रस में समान मात्रा में मिलकर लगभग आधा कर पीए जाएं। इससे मूत्राशय और मूत्र मार्ग में होने वाली जलन की समस्या कम होगी और साथ ही पथरी को गलाकर पेशाब मार्ग के बाहर भी निकलने में मदद मिलेगी।

गिलोय Giloy for stone)

स्टेमिना को बूस्ट करने वाला गिलोय आपके पथरी के तोड़ कर बाहर निकाल सकता है। पेशाब करते वक्त हो रही जलन को दूर करने के लिए गिलोय रामबाण साबित हो सकता है। इसके लिए 10 ग्राम गिलोय के चूर्ण को इतनी ही मात्रा में आंवला चूर्ण, सोंठ चूर्ण (5 ग्राम), गोखरू बीजों का चूर्ण (3 ग्राम) और अश्वगंधा का चूर्ण (5 ग्राम) ले लें और इन सबको 100 मिली पानी में डालकर अच्छे से उबाल लें। दिन में एक बार इसका रोजाना सेवन करने से कुछ ही दिनों में पथरी टूटकर बाहर निकल जाती है।

पत्थरचट्टा (patharchatta benefits in kidney stone)

किडनी और पेट से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने के लिए औषधीय गुणों से भरपूर पत्थरचट्टा का इस्तेमाल किया जाता है। पथरी की समस्या को दूर करने के लिए पत्थरचट्टा का सेवन करना रामबाण साबित हो सकता है।

पुनर्नवा (Use Punarnava to break stones)

गुर्दे की पथरी में होने वाली समस्याओं और इसे तोड़ कर बाहर निकालने में पुनर्नवा काफी लाभकारी है। साथ ही ये पथरी के चलते होने वाले कमर और पेट दर्द की भी समस्या को दूर करने में मदद करता है। इसके लिए पुनर्नवा, कूचर और अदरक को समान मात्रा में मिलाकर सेवन करें। कुछ ही दिनों में आराम मिल सकता है।

आंवला (Gooseberry for Kidney Stone)

कई आवश्यक औषधीय गुणों से भरपूर आंवला पथरी की समस्या में भी रामबाण है। पथरी की समस्या में आंवले के रस के साथ इलायची को मिला लें और गुनगुने पानी में डालकर सेवन करें। इससे उल्टियां, चक्कर आना या फिर पेट दर्द जैसी समस्याओं से आराम मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj