Create

बादाम रोगन तेल के फायदे और नुकसान

बादाम रोगन तेल के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeeda hindi)
बादाम रोगन तेल के फायदे और नुकसान (फोटो - sportskeeda hindi)
Naina Chauhan

बादाम का सेवन हर किसी के लिए लाभकारी होता है, ये बात तो हर कोई जानते हैं। लेकिन बादाम से तैयार किया गया बादाम रोगन तेल भी स्वास्थ्य के लिए उतना ही फायदेमंद होता हैं। इस तेल में पोटेशियम, फैटी एसिड, फास्फोरस जैसे पौष्टिक तत्वों से भी भरपूर होता है। आपको बता दें, पेट की कब्ज, पाचन तंत्र, डायबिटीज और दिल (ह्रदय) से जुड़ी समस्याओं के लिए यह काफी उपयोगी होता हैं। बादाम रोगन तेल (badam rogan oil benefits in hindi) सेहत के साथ-साथ त्वचा व बालों के लिए भी बेहद शानदार होता हैं। जानते हैं बादाम रोगन तेल के फायदे और नुकसान।

बादाम रोगन तेल के फायदे : Badam Rogan Tel Ke Fayde In Hindi

स्किन मॉइस्चराइज रहती है - Moisturizing Property बादाम का तेल स्किन के लिए काफी अच्छा माना जाता है। ये तेल त्वचा को सॉफ्ट और समूद बनाता है। नहाने के बाद सीधे अपने शरीर और चेहरे पर बादाम का तेल जरुर लगाएं।

टैनिंग और एंटीएजिंग से छुटकारा - धूप में अकसर लोगों को टैनिंग की समस्या हो जाती है। जिसकी वजह से से स्किन काफी खराब नजर आने लगती है। ऐसे में बादाम का तेल काफी हद तक राहत देगा और तो और एंटीएजिंग की समस्या भी कम होने लगती है ।

स्ट्रेच मार्क्स की समस्या दूर होती है - अगर किसी के शरीर में स्ट्रेच मार्क्स की समस्या हो गई है तो ऐसे में इस परेशानी को दूर करने के लिए बादाम का तेल काफी फायदेमंद है। इससे ना सिर्फ खिंचाव कम होता है बल्कि स्ट्रेच मार्क्स भी कम होंते हैं। बादाम रोगन का प्रयोग न केवल बैली स्किन की इलास्टिसिटी बढ़ाता है बल्कि हाइड्रेटेड भी रखता है।

बादाम रोगन तेल के नुकसान : Badam Rogan Tel Ke Nuksan In Hindi

वजन बढ़ सकता है - बादम रोगन में कैलोरीज अधिक होती हैं। इसलिए वजन बढ़ने का खतरा रहता है।

शुगर बढ़ सकता है - बादाम रोगन के इस्तेमाल से शुगर लेवल भी हाई हो सकता है। इसलिए इसके प्रयोग कम मात्रा में ही करें।

एलर्जी हो सकती है - अगर आपको किसी प्रकार की एलर्जी है तो बदाम रोगन का प्रयोग नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसके प्रयोग से एलर्जी बढ़ सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan

Comments

Fetching more content...