Create

बवासीर का घरेलू उपाय : Piles Home Remedy

बवासीर का घरेलू उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
बवासीर का घरेलू उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

बवासीर (Piles) आपके गुदा और मलाशय में सूजी हुई नसें होती हैं जो दर्द, खुजली और मलाशय से रक्तस्राव का कारण बन सकती हैं। वे या तो आंतरिक या बाहरी हो सकते हैं। यह दर्दनाक अनुभव हो सकता हैं । विशेषकर ये 50 की उम्र के बाद होती हैं। इस लेख में आप बवासीर के घरेलु उपचारों के बारे में जानेंगे :-

बवासीर का घरेलू उपाय : Piles Home Remedy In Hindi

बर्फ (Ice)

बर्फ बवासीर का पहला व सरल उपाय है। यह खून के स्त्राव को कम कर, सुजन भी कम करता है व दर्द में भी आराम मिलता है। बर्फ को कपड़े में लपेटकर प्रभावित जगह में रखें व 10 min तक सिकाई करें। दिन में कई बार ऐसा करें आराम मिलेगा।

ओलिव आयल (Olive oil)

ओलिव आयल एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज होती है, जो बाहरी बवासीर को ठीक करने में सहायक है। यह सुजन वाली खून की नसों को ठीक करता है, जिससे सुजन कम होती है व खून का संचालन सही होता है। 1 चम्मच ओलिव आयल रोज खाना चाइये, आप इसमें सब्जी बनाकर या सलाद में मिलाकर खा सकते है।

जीरा (Cumin Seeds)

आधा चम्मच भुना पीसा हुआ जीरा को 1 ग्लास गुनगुने पानी में डाल कर दिन में 2-3 बार पियें। इसके अलावा छाछ में भी जीरा मिला कर पी सकते है। दिन में जितनी बार प्यार लगे पानी की जगह छाछ पियें। 3-4 दिन में खून की नसों में सुजन कम हो जाएगी और बवासीर से आराम मिलेगा।

एलोवेरा (Aloevera)

एलोवेरा एक नेचुरल तरीका है| एलोवेरा से खुजली जलन कम होती है। यह बाहरी व अंदरूनी दोनों तरह की बवासीर को ठीक करता है। एलोवेरा से उसका जेल निकालकर प्रभावित एरिया में लगाकर मसाज करें, इससे जलन कम होगी। इसके अलावा एलोवेरा को काट कर फ्रीजर में रखें अब इस ठंडी एलोवेरा से प्रभावित जगह पर सिकाई करें।

किशमिश (Raisins)

मुट्ठी भर किशमिश को पानी में रात भर भिगोयें। अगले दिन सुबह किशमिश को पानी में मसल लें अब खली पेट इसे खाएं। रोजाना ऐसा करें कुछ दिन में ही आराम मिलेगा।

अन्य उपाय (Other remedies)

  • बवासीर से बचने के लिए जितना हो सकते तरल पदार्थ ले, पानी तो दिन में 8-10 ग्लास जरुर पियें।
  • ताजे फल व उसका जूस पियें।
  • ताज़ी रेशेदार सब्जियां खाएं, सूप पियें।
  • फाइबर युक्त खाना अधिक से अधिक लें।
  • तेल व मसाले वाला खाना बिल्कुल ना खाएं।
  • अंजीर, खजूर फाइबर युक्त मेवे रोज सुबह खाया करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment