हल्दी वाला दूध पीने के फायदे

हल्दी वाला दूध पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)
हल्दी वाला दूध पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)

हल्दी का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना है। वैसे तो अक्सर खाना बनाते समय हल्दी का उपयोग करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि हल्दी का इस्तेमाल दूध में भी करना फायदेमंद होता है। हल्दी में मौजूद गुण सेहत के लिए बहुत लाभकारी होते हैं। हल्दी और दूध में मौजूद गुण शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और इन्फेक्शन आदि दूर करने में बहुत फायदेमंद होते हैं। हल्दी में विटामिन के, विटामिन सी, प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, कॉपर, जिंक, थियामिन और राइबोफ्लेविन आदि की प्रचुर मात्रा होती है। इसका सेवन शरीर के सभी अंगों को हेल्दी रखना और बीमारियों से छुटकारा दिलाने में बहुत फायदेमंद होता है। तो चलिए जानते हैं हल्दी वाला दूध पीने से क्या फायदे मिलते हैं।

youtube-cover

हल्दी वाला दूध पीने के फायदे : Benefit Of Turmeric With Milk In Hindi

वजन कम करने के लिए -

कच्ची हल्दी वाला दूध पीने से आपको वजन कम करने में भी बहुत फायदा मिलता है। कच्ची हल्दी में करक्यूमिन की मात्रा होती है, जो आपको मोटापा, स्ट्रोक और डायबिटीज जैसी समस्याओं में बहुत फायदेमंद होती है। कच्ची हल्दी वाला दूध सुबह के समय पीने से आपको दिन में ज्यादा भूख नहीं लगती और शरीर का चयापचय ठीक रहता है। नियमित रूप से इसका सेवन करने से वजन कम करने में फायदा मिलता है।

इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए -

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए हल्दी और दूध का सेवन बहुत फायदेमंद माना जाता है। हल्दी वाला दूध शरीर को इन्फेक्शन या बीमारियों से बचाने का काम करते हैं।

डायबिटीज में फायदेमंद -

डायबिटीज मरीजों के लिए हल्दी वाला दूध पीना बहुत लाभकारी होता है। हल्दी में मौजूद गुण शरीर में इंसुलिन लेवल को कंट्रोल करते हैं और ब्लड ग्लूकोज को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।अगर कोई व्यक्ति रोजाना हल्दी को दूध में उबालकर पीता है तो इससे डायबिटीज के मरीजों को कई फायदे मिलते हैं।

पाचन तंत्र के लिए -

हल्दी वाले दूध का सेवन करने से पाचन तंत्र को बहुत फायदा मिलती है। पाचन तंत्र से जुड़ी परेशानियों को दूर करने के लिए हल्दी और दूध का सेवन बहुत फायदेमंद है। कच्ची हल्दी को दूध में उबालकर पीने से कब्ज, एसिडिटी और अपच आदि की समस्या में बहुत फायदा मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan