Create
Notifications

गोक्षुरादि गुग्गुल वटी के फायदे- Gokshuradi Guggulu Vati ke Fayde

गोक्षुरादि गुग्गुल वटी के फायदे(फोटो:youtube)
गोक्षुरादि गुग्गुल वटी के फायदे(फोटो:youtube)
reaction-emoji
Ritu Raj
visit

आज के समय में लोग खराब खानपान के चलते कई रोगों से घिरते जा रहे हैं ऐसे में डॉक्टरों के चक्कर लगाते हैं। लेकिन कई रोगों का आयुर्वेद में बहुत ही आसान तरीके से इलाज संभव है। कई ऐसी जड़ी बूटियां हैं जिनका इस्तेमाल कर आप बड़ी से बड़ी बीमारी से बच सकते हैं और अस्पताल के चक्कर से बच सकते हैं। ऐसी ही एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है गोक्षुरादि गुग्गुल वटी (Gokshuradi Guggulu) जो कई रोगों में लाभकारी है।

गोक्षुरादि गुग्गुल मुख्यतः मूत्र से जुड़े सभी रोगों को समाप्त करने में सहायक है। बार-बार पेशाब आना, रुक-रुक कर पेशाब आना जैसी समस्याओं में यह कारगर औषधि हैं। पथरी में भी यह काफी लाभकारी है। आईए जानते हैं इसके फायदे के बारे में।

गोक्षुरादि गुग्गुल वटी के फायदे | Gokshuradi Guggulu Vati Benefits In Hindi

मूत्र के बहाव को स्वस्थ करे

जिन लोगों को मूत्र से जुड़ी समस्याएं हैं और डॉक्टर के चक्कर लगा कर थक गए हैं तो उन्हें गोक्षुरादि गुग्गुल वटी का इस्तेमाल करना चाहिए। यह जीवाणुरोधी गुणों के साथ मूत्र के स्वस्थ प्रवाह को बनाए रखता है और पेशाब करते समय होने वाली जलन को भी खत्म करता है।

गुर्दे की पथरी का इलाज़

गुर्दे की पथरी का इलाज भी गोक्षुरादि गुग्गुलु (gokshuradi guggulu) से संभव है। इसमें ऐसे गुण होते हैं जो गुर्दे की पथरी को तोड़ने या उनके आकार को कम करने का काम करते हैं।

स्पर्म के बनने

गोक्षुरादि गुग्गुलु में स्पर्म के बनने और ओवुलेशन बढ़ाने के लिए जाना जाता है। यदि आप बांझपन की समस्याओं से गुजर रहे हैं तो यह फायदेमंद है। इसके सेवन से शुक्राणुओं की गुणवत्ता में भी सुधार आता है।

मोटापा

आज के समय में हर को फिट रहना चाहता है लेकिन लाइफस्टाइल ऐसी हो गई है कि मोटापा से घिरता जा रहा है। ऐसे में आप गोक्षुरादि गुग्गुलु का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये एक प्राकृतिक डियूरेटिक है जो मोटापे को ठीक करने के लिए उपयोगी है।

जोड़ों का दर्द

कई लोगों को जोड़ों का दर्द उम्र के साथ आता है और कई लोगों को पहले। गोक्षुरादि गुग्गुलु मांसपेशियों को आराम देने में सहायक है, यह जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को कम करने में काफी लाभकारी है।

मासिक धर्म चक्र को नियमित

खराब खानपान या फिर किसी और कारण से कई महिलाओं के मासिक धर्म चक्र नियमित नहीं आता है ऐसे में गोक्षुरादि गुग्गुलु का सेवन कर इसके नियमित किया जा सकता है। ये यूरिन को उत्तेजित करता है और पीकोड और पीकॉस को भी ठीक करता है।

इसके अलावा गोक्षुरादि गुग्गुलु (gokshuradi guggulu) वाइट डिस्चार्ज, बवासीर, कोलेस्ट्रोल, गाल ब्लैडर की पथरी कम करने के अलावा कई और रोगों में लाभकारी है।


Edited by Ritu Raj
reaction-emoji
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now