Create

आंवले की गुठली के फायदे- Amla ki Guthli ke Fayde

आंवले की गुठली के फायदे(फोटो:navbharat times)
आंवले की गुठली के फायदे(फोटो:navbharat times)

आयुर्वेद में ये बताया गया है कि हर रोज एक आंवले (Gooseberry) का सेवन करने से खुद को 20 से अधिक बीमारियों से बचाया जा सकता है। आंवले में विटामिन-सी और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होता है। इसके अलावा इसमें पोटैशियम, कैल्शियम, कैरोटीन, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, फाइबर, प्रोटीन, विटामिन ए बी, कॉम्प्लेक्स, मैग्नीशियम, मिनरल्स, पॉलीफेनोल और डाययूरटिक एसिड पाए जाते हैं। लेकिन आंवला खाने के बाद जो लोग इसकी गुठली (Seeds) को फेंक देते हैं उन्हें बता दें कि इसके भी कई ढ़ेर सारे फायदे आपकी सेहत से जुड़े हैं। ये कई बीमारियों के लिए काफी लाभकारी हैं।

आंवले की गुठली के फायदे Benefits of Amla seeds in Hindi

त्वचा रोग में फायदेमंद (Benefits of Amla seeds in skin diseases)

दाद-खाज, खुजली और कई त्वचा रोग से निजात दिलाने में आंवले की गुठली काफी कारगर है। इसके लिए आंवले की गुठली का चूर्ण बना लें और इसमें नारियल तेल मिलाकर प्रभावित जगह पर लगाएं इससे काफी आराम मिलेगा।

नाक से खून आने पर (Amla seeds in Nose Bleeding)

नकसीर फूटने पर नाक से खून आने लगता है। ऐसे में आंवले की गुठली काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। इसके लिए आंवले की गुठली को पानी में भिगोकर बारीक पीसकर इसका पेस्ट बना लें और माथे पर लगाए, इससे काफी राहत मिलेगी।

ल्यूकोरिया से निजात दिलाने में (Amla seeds to get rid of leucorrhoea)

ल्यूकोरिया महिलाओं में एक आम बीमारी है। हालांकि, इसे जल्द नहीं ठीक किया गया तो यह कई और बीमारियों की जड़ हो सकती है। इस समस्या में आंवले की गुठलियों को पानी में भिगोकर कुछ देर के लिए रख दें। फिर इसको बारीक पीसकर पेस्ट तैयार कर लें। चौथाई चम्मच पेस्ट को एक गिलास पानी में आधा चम्मच शहद मिलाकर इसका सेवन करें। इससे काफी आराम मिलता है।

पथरी में आराम (Amla seeds in stone relief)

पथरी की समस्या में भी आंवले की गुठली कमाल का फायदा करती है। इस समस्या से निताज पाने के लिए आंवले की गुठली का चूर्ण बनाकर इसका सेवन करें।

इम्यूनिटी (Amla seeds for strong Immunity)

जब इम्यूनिटी कमजोर होती है तो ऐसे में संक्रमण और मौसमी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही हम कोई भी काम करते हैं जो जल्दी थक जाते हैं। ऐसे में आंवले की गुठली का सेवन कर अपने इम्यूनिटी को और मजबूत बनाया जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment