खाली पेट शहद और किशमिश खाने के 5 फायदे

खाली पेट शहद और किशमिश खाने के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
खाली पेट शहद और किशमिश खाने के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)

शहद और किशमिश का सेवन सेहत को काफी लाभ पहुंचाता है। क्योंकि ये दोनों ही चीजें पोषक तत्वों से भरपूर होती है। वैसे तो इस मिश्रण का सेवन किसी भी वक्त किया जा सकता है, लेकिन इस मिश्रण का सेवन अगर आप खाली पेट करते हैं, तो यह सेहत के लिए बेहद गुणकारी होते हैं। खाली पेट इस मिश्रण का सेवन करने से आपके शरीर की इम्यूनिटी बूस्ट होती है, साथ ही अन्य कई समस्याओं में भी फायदा पहुंचता है। तो आइए जानते हैं खाली पेट शहद और किशमिश एक साथ खाने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

youtube-cover

खाली पेट शहद और किशमिश खाने के 5 फायदे-Benefits Of Eating Honey And Raisins On An Empty Stomach In Hindi

किशमिश में पोषक तत्व- किशमिश में प्रोटीन, फाइबर, आयरन, पोटेशियम, कॉपर, विटामिन-बी6 और मैंगनीज जैसे तत्व मौजूद होते हैं।

शहद में पोषक तत्व- शहद विटामिन सी के साथ-साथ एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी बैक्टीरियल, एंटी वायरल गुणों से भरपूर होता है।

किशमिश और शहद के फायदे

खून की कमी दूर करे

अगर आप खाली पेट शहद और किशमिश के मिश्रण का सेवन करते हैं, तो इससे खून की कमी को दूर करने में मदद मिलती है। क्योंकि इसमें मौजूद आयरन शरीर में हीमोग्लोबिन (Hemoglobin) लेवल को बढ़ाने में मदद करता है।

शरीर को रखे ऊर्जावान

अगर आप खाली पेट किशमिश और शहद के मिश्रण का सेवन करते हैं, तो इससे कमजोरी और सुस्ती महसूस नहीं होती है। क्योंकि इसमें मौजूद पोषक तत्व शरीर को ऊर्जावान (Energetic) रखने में मदद करता है।

प्रतिरक्षा प्रणाली बनाए मजबूत

अगर आप खाली पेट किशमिश और शहद के मिश्रण का सेवन करते हैं, तो इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट गुण आपके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली (Immunity) को मजबूत बनाने में मदद करता है। जिससे आपका मौसमी बीमारियों से बचाव होता है।

पाचन में करे सुधार

खाली पेट किशमिश और शहद के मिश्रण का सेवन पाचन (Digestion) स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। क्योंकि इसमें मौजूद फाइबर पाचन क्रिया में सुधार करता है और कब्ज की समस्या को दूर करने में मदद करता है।

हड्डियों को बनाए मजबूत

बढ़ती उम्र के साथ हड्डियां कमजोर होने लगती है, ऐसे में अगर आप किशमिश और शहद के मिश्रण का सेवन करते हैं, तो इसमें मौजूद कैल्शियम हड्डियों को स्वस्थ रखने में और मजबूत (Strong Bones) बनाने में मदद करता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava