Create

बेर के पत्ते खाने के फायदे - Ber ke patte khane ke fayde

बेर के पत्ते खाने के जबरदस्त फायदे
बेर के पत्ते खाने के जबरदस्त फायदे

बेर हर कोई खाया होगा और इसके कई फायदे होते हैं। लेकिन क्या आपने कभी इसके पत्ते के बारे में सोचा है कि ये भी आपकी सेहत के लिए कितने फायदेमंद (Ber ke patte khane ke fayde) होते हैं। बेर के पत्तों में औषधीय गुण होते हैं इससे शरीर की कई समस्याएं और रोग को दूर किया जा सकता है। बेर के पत्ते के रस से वजन भी कम किया जा सकता है। इसके साथ ही गले में खराश, यूरिन के दौरान होने वाली जलन, शरीर की जलन आदि समस्याओं के लिए भी ये फायदेमंद माना जाता है। बेर के पत्ते का रस लेप के तौर पर, काढ़े के तौर पर, गुनगुने पानी में मिलाकर पी सकते हैं।

बेर के पत्ते खाने के फायदे - Ber ke patte khane ke fayde in hindi

कम वजन (plum leaves for Weight loss)

बेर के पत्ते को वजन कम करने में भी कारगर माना गया है। इसके लिए इसके पत्तों को रातभर पानी में भिगोकर रख दें, सुबह इस पानी को खाली पेट पीने से फायदा होता है। बेर के पत्ते से वजन तेजी से घटता है। हालांकि, इसके लिए आपको नियमित रूप से इसका सेवन करना होगा और फर्क हफ्ते दो हफ्ते में नजर आने लगेगा।

यूरिन में जलन (Use plum leaves in case of burning sensation in urine)

पेशाब करने में जलन की समस्या है तो बेर के पत्तों का इस्तेमाल करना चाहिए। इससे पेशाब के दौरान होने वाली जलन से राहत मिल सकता है। इसके लिए बेर के पत्ते का रस निकालकर उसमें भुना हुआ जीरा मिलाकर गुनगुने पानी के साथ पीने से काफी राहत मिलती है।

गले में खराश (Jujube leaf removes the problem of sore throat)

गले में खराश की समस्या में भी बेर का पत्ता काफी लाभकारी है। इसके रस का सेवन करने से गले की खराश दूर होती है। बेर के पत्ते के रस को निकालकर गुनगुने पानी में काली मिर्च डालकर सुबह-शाम सेवन करने से इस समस्या से छुटकारा मिलता है और साथ ही गले में कफ भी साफ होता है।

शरीर में होने वाली जलन (plum leaves for Burning sensation in body)

शरीर में जलन की समस्या में बेर के पत्तों को पीसकर उसका लेप तैयार कर लें और त्वचा पर लगाएं, इससे जलन ठीक हो जाएगी। घाव या चोट लगने पर दर्द या जलन को कम करने के लिए इसके लेप का इस्तेमाल किया जा सकता है।

आंख में फुंसी (Aankh me funsi ko thik karta hai ber ka patta)

आंख में गुहेरी या फुंसी होने पर आंख में तेज जलन, दर्द या सूजन की समस्या को दूर करने के लिए बेर के पत्ते का रस आँख के बाहरी हिस्से पर लगाने से दर्द कम होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment