Create
Notifications

इन बीमारियों से पाना है छुटकारा, तो करें नमक के पानी से गरारा

नमक के गरारे करने के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
नमक के गरारे करने के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

सर्दी-जुकाम की शिकायत होने पर नमक के पानी से गरारे (Gargling with salt water) करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि नमक के पानी से गरारे करने से वायरस और बैक्टीरिया ब्लॉक हो जाते हैं। बता दें कि गरारा करने से आपको किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है बल्कि इससे कई समस्याओं में फायदा ही मिलता है। नमक पानी से गरारा करने से पेट और ओरल हेल्थ से जुड़ी कई बीमारियां भी दूर होती है। आइए जानते हैं नमक के गरारे करने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

इन बीमारियों से पाना है छुटकारा, तो करें नमक के पानी से गरारा

1- सांस और मुंह की दुर्गन्ध को दूर करने के लिए नमक के पानी से गरारा करना काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि नमक के पानी से गरारा करने से मुंह में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं।

2- जिन लोगों को साइनस (Sinus) की शिकायत है, उन्हें नमक के पानी से गरारा करना चाहिए। क्योंकि नमक से गरारा करने से साइनस की बीमारी में काफी आराम मिलता है।

3- सर्दी-जुकाम की वजह से गले में खराश (sore throat) की शिकायत हो जाती है, लेकिन गले में खराश की शिकायत होने पर अगर आप नमक के पानी से गरारा करते हैं, तो इससे गले में खराश की शिकायत से छुटकारा मिलता है।

4- दांत में दर्द या मसूड़े में दर्द और खून आने की शिकायत होने पर भी नमक के पानी से गरारा करना काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि नमक से गरार करने से बैक्टीरिया दूर होते हैं, जिससे दांत और मूसड़े से जुड़ी समस्याएं दूर होती है।

5- मुंह में छाले (Mouth Ulcer) की समस्या एक आम समस्या है, मुंह में छाले की शिकायत होने पर खाने-पीने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन मुंह में छाले होने पर अगर आप नमक से गरारा करते हैं, तो इससे छाले की शिकायत दूर होती है।

6- टॉन्सिल (Tonsil) की शिकायत होने पर गले में दर्द और सूजन की समस्या हो जाती है। जिसकी वजह से भोजन को निगलने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। लेकिन टॉन्सिल की शिकायत होने पर अगर आप नमक से गरारे करते हैं, तो इससे दर्द और सूजन की समस्या दूर होती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...