Create

गुड़ और काली मिर्च के 5 फायदे- Gud Aur Kali Mirch Ke Fayde

गुड़ और काली मिर्च के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
गुड़ और काली मिर्च के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

गुड़ (Jaggery) और काली मिर्च (Black pepper) दोनों की ही सेवन सेहत को कई लाभ पहुंचाता है। क्योंकि गुड़ और काली मिर्च दोनों ही औषधीय गुणों से भरपूर होता है। लेकिन क्या आपने कभी इन दोनों का साथ में सेवन किया है, गुड़ और काली मिर्च का एक साथ सेवन सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। गुड़ और काली मिर्च का एक साथ सेवन करने से स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं दूर होती है। क्योंकि गुड़ में प्रोटीन, विटामिन बी12, कैल्शियम, आयरन, विटामिन सी जैसे तत्व पाए जाते हैं, तो वहीं, काली मिर्च में विटामिन ए, विटामिन ई, विटामिन के, विटामिन सी और विटामिन बी6, थायमीन, नियासिन, सोडियम, पोटैशियम जैसे गुण पाए जाते हैं। जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होता है। आइए जानते हैं गुड़ और काली मिर्च के क्या-क्या फायदे होते हैं।

गुड़ और काली मिर्च के 5 फायदे

सर्दी-जुकाम में फायदेमंद

जिन लोगों को सर्दी-जुकाम (Cold) की शिकायत है, उनको गुड़ और काली मिर्च का सेवन करना चाहिए, क्योंकि इस मिश्रण का सेवन करने से सर्दी-जुकाम की शिकायत से छुटकारा मिलता है।

गले में खराश की समस्या होती है ठीक

सर्दी-जुकाम की शिकायत होने पर गले में खराश की शिकायत हो जाती है। लेकिन अगर आप गुड़ और काली मिर्च के मिश्रण का सेवन करते हैं, तो इससे गले में खराश की शिकायत दूर होती है।

पीरियड्स के दर्द में मिलता है आराम

गुड़ और काली मिर्च का सेवन महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है, क्योंकि महिलाओं को पीरियड्स (Periods) के समय असहनीय दर्द और ऐंठन की शिकायत होती है, लेकिन अगर आप गुड़ और काली मिर्च का सेवन करती हैं, तो इससे दर्द और ऐंठन की समस्या से छुटकारा मिलता है।

पाचन तंत्र रहता है मजबूत

काली मिर्च और गुड़ का सेवन पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि इस मिश्रण का सेवन करने से पाचन (Digestion) तंत्र दुरूस्त रहता है, साथ ही कब्ज, एसिडिटी, सूजन जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है। इसके लिए दही में गुड़ और काली मिर्च मिलाकर सेवन करना चाहिए।

जोड़ों के दर्द में फायदेमंद

जोड़ों में दर्द (Joint pain) की शिकायत होने पर गुड़ और काली मिर्च के मिश्रण का सेवन लाभदायक साबित होता है। क्योंकि इन दोनों में एंटी इंफ्लेमेंटरी गुण पाया जाता है, जो दर्द को कम करने में मददगार साबित होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...