Create

कपालभाति योगासन के फायदे kapalbhati yogaasana ke fayde

कपालभाति योगासन के फायदे(फोटो:patrika)
कपालभाति योगासन के फायदे(फोटो:patrika)

योग, मन और शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। योग के सहारे आप कई तरह की बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं। अगर आप बीमारियों से बचना चाहते हैं, तो कपालभाति (kapalbhati) योगासन को अपनी डेली रूटीन में जरूर शामिल करें। इसी कड़ी में आज हम आपको कपालभाती (kapalbhati) योगासन के फायदे के बारे में बताने जा रहे हैं। जानिए क्या है कपालभाति (kapalbhati) योगासन के फायदे।

कैसे करते हैं कपालभाति आसन

कपालभाति (kapalbhati)करने के लिए सबसे पहले वज्रासन या पद्मासन में बैठ जाएं।

इसके बाद अपने दोनों हाथों से चित्त मुद्रा बनाएं. अब इसे अपने दोनों घुटनों पर रखें।

गहरी सांस अंदर की ओर लें और झटके से सांस छोड़ते हुए पेट को अंदर की ओर खींचें।

ऐसा कुछ मिनट तक लगातार करते रहें, एक बार में इसे 35 से लेकर 100 बार करें।

कपालभाति (kapalbhati) करने के बाद थोड़ी देर तक ताली बजाएंगे, तो ज्यादा फायदे मिलेंगे।

कपालभाति योगासन के फायदे kapalbhati yogaasana ke fayde in Hindi

रोजाना कपालभाति (kapalbhati) करने से लिवर और किडनी से जुड़ी समस्या ठीक होती है।

शरीर में ऊर्जा का स्तर बनाए रखने के लिए यह आसन बहुत फायदेमंद है।

नियमित रूप से कपालभाति (kapalbhati) करने से आंखों के नीचे कोले घेरों की समस्या भी खत्म हो जाएगी।

आपके ब्लड सर्कुलेशन को ठीक रखने और मेटाबॉलिज्म में सुधार करने के लिहाज से कपालभाति (kapalbhati)बहुत फायदेमंद है।

गैस और एसिडिटी की समस्या से दिलाए निजात।

इसमें सांस छोड़ने की प्रक्रिया करने से फफेड़े को मजबूती मिलती है।

कपालभाति (kapalbhati) करने से याददाश्त बेहतर होती है और दिमाग भी ठीक ढंग से काम करता है।

इस प्राणायाम को करने से नींद की गुणवत्ता में सुधार होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment