Create

चक्र फूल के 5 फायदे- Chakra Phool Ke Fayde

चक्र फूल के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
चक्र फूल के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

भारतीय किचन में कई मसालों का उपयोग किया जाता है, जो खाने में स्वाद को दो गुना बढ़ा देते हैं, उन्हीं में से एक मसाला चक्र फूल (Star anise) है। चक्र फूल खाने में स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ सेहत को भी कई लाभ पहुंचाता है। क्योंकि चक्र फूल औषधीय गुणों से भरपूर होता है। चक्र फूल का सेवन करने से स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं भी दूर होती है। क्योंकि चक्र फूल में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल, विटामिन ए और सी जैसे तत्व पाए जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होते हैं। आइए जानते हैं चक्र फूल के क्या-क्या फायदे होते हैं।

चक्र फूल के 5 फायदे

1- जिन लोगों की इम्यूनिटी (Immunity) कमजोर होती है, वो आसानी से किसी भी बीमारी की चपेट में आ जाते हैं। लेकिन अगर आप चक्र फूल का सेवन करते हैं, तो इससे आपकी इम्यूनिटी मजबूत होती है। जिससे आपका शरीर वायरस और बैक्टीरिया की चपेट में आने से बच सकता है।

2- सर्दी-खांसी (Cold and Cough) की समस्या एक आम समस्या है। लेकिन सर्दी-खांसी की शिकायत होने पर अगर आप चक्र फूल का सेवन करते हैं, तो यह काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि चक्र फूल का सेवन करने से सर्दी-खांसी जैसे वायरल इंफेक्शन से छुटकारा मिलता है।

3- चक्र फूल का सेवन करने से गैस और अपच (Indigestion) जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है। क्योंकि अगर आप खाना खाने के बाद चक्र फूल को चबाकर खाते हैं, तो इससे खाना आसानी से पच जाता है। जिससे अपच जैसी शिकायते नहीं होती है, साथ ही पाचन तंत्र भी मजबूत होता है।

4- शरीर में सूजन (Swelling) की शिकायत होने पर चक्र फूल का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि चक्र फूल में एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण पाया जाता है, जो सूजन को कम करने में मददगार साबित होता है।

5- जोड़ों में दर्द (Joint pain) की शिकायत होने पर च्रक फूल का उपयोग काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि जोड़ों में दर्द की शिकायत होने पर अगर आप चक्र फूल के तेल से जोड़ों की मालिश करते हैं, तो इससे जोड़ों में दर्द की शिकायत से छुटकारा मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...