Create
Notifications

हल्दी और गुड़ के फायदे - Haldi Aur Gud Ke Fayde

हल्दी और गुड़ के फायदे ( फोटो - Sportskeeda Hindi )
हल्दी और गुड़ के फायदे ( फोटो - Sportskeeda Hindi )
Shilki

हल्दी (Turmeric) में अनेक गुण होते हैं। हर घर में हल्दी उप्लब्ध होती है। इसके सेहत के लिए बहुत से फायदे होते हैं। हल्दी में पाए जाने वाले एंटीसेप्टिक (antiseptic) गुण हमें कई बीमारियों से बचाते हैं। वहीं गुड़ के भी सेहत के लिए अनेकों फायदे होते हैं। गुड़ का सेवन सभी लोगों के लिए लाभदायक होता है। इसका सेवन डायबिटीज के मरिजों के लिए भी फायदेमंद होता है। लेकिन अगर हम हल्दी और गुड़ (Turmeric and Jaggery) का साथ में सेवन करें तो यह शरीर के लिए बहुत लाभकारी हो सकता है। इसके सेवन से कमजोर हुई इम्यूनिटी को बूस्ट करने में मदद मिलती है। बदलते मौसम में इन दोनों का सेवन साथ में करना फायदेमंद साबित होगा।

हल्दी और गुड़ के फायदे

खांसी में गुड़ और हल्दी फायदेमंद - बदलते मौसम में खांसी Cough और जुकाम Cold होना भी आम बात होती है। लेकिन इस घरेलू नुस्खे से हम अपनी जुकाम और खांसी को घर पर ही ठीक कर सकते हैं और वो ऐसे कि गुड़ और हल्दी को साथ में मिलाकर सेवन करने से छाती में जमा हुआ कफ बाहर निकलता है। जिससे इसमें बहुत जल्दी आराम मिलता है।

हल्दी और गुड़ करे इम्यूनिटी बूस्ट - गुड़ और हल्दी के साथ में सेवन से कमजोर हुई इम्यूनिटी immunity को बूस्ट करने में मदद मिलती है। इन दोनों को रोजाना रात में दूध में मिलाकर पिएं इससे शरीर को ताकत मिलेगी और बदलते मौसम में आप वायरस से भी बचे रहेंगे।

हल्दी और गुड़ से बनी कैन्डी - हल्दी और गुड़ से बनी कैन्डी candy का सेवन आप कभी भी कर सकते हैं। ये सर्दी जुकाम में बहुत ही फायदेमंद होती है। कैन्डी बनाने का तरीका- गुड़ को कड़ाई में डालकर गरम कर पिघला दें। इसके बाद इसमें थोड़ी सी सौंठ saunth और पिसी हुई हल्दी डालें इन तीनों को अच्छे से मिलाएं और थोड़ा ठंडा होने पर इसे गोल या अपने मनचाहे आकार में ढालें। फिर इसका सेवन करें। ये सेहत के लिए लाभकारी होती है।

डायबिटीज के मरिजों - डायबिटीज (Diabetes) के मरिजों के लिए भी हल्दी और गुड़ फायदेमंद होती है। जैसा कि हम सब जानते ही हैं कि डायबिटीज के मरीजों को शक्कर का सेवन बिल्कुल मना किया जाता है। इसलिए ऐसे में गुड़ और हल्दी का सेवन किया जा सकता है। इसके सेवन से डायबिटीज में कोई परेशानी नहीं होती। बस ये ध्यान रखें कि इसका ज्यादा सेवन न करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Shilki

Comments

Fetching more content...