Create
Notifications

मतली के लिए बेहतरीन आयुर्वेदिक उपाय - Matli ke liye Behtarin Ayurvedic Upay

मतली के लिए बेहतरीन आयुर्वेदिक उपाय
मतली के लिए बेहतरीन आयुर्वेदिक उपाय
reaction-emoji
Ritu Raj
visit

Best Ayurvedic Remedy for Nausea in hindi: जी मिचलाने पर हम काफी असहज महसूस करते हैं और इससे मूड खराब भी हो जाता है। जी मिचलाने पर आपको आराम की काफी जरूरत महसूस होती है। पेट दर्द होने पर मतली की समस्या हो जाती है। इसके चलते शारीरिक रूप से थका महसूस कर सकते हैं। उल्टी होने के पीछे कोई एक विशेष कारण नहीं है। कई कारक मतली का कारण बन सकते हैं। मोशन सिकनेस, एसिड रिफ्लक्स, अपच या मॉर्निंग सिकनेस भी हो सकता है। इस समस्या का छुटकारा पाने के लिए कुछ आयुर्वेदिक चीजों का उपयोग कर सकते हैं।

अदरक (Consume ginger in nausea)

जी मिचलाने पर अदरक काफी काम आ सकता है। अदरक में एंटीमेटिक गुण होते हैं। ये एक ऐसा पदार्थ है जो उल्टी और चक्कर आने से बचाता है। ऐसे में अदरक की गोलियां या फिर अदरक की चाय का सेवन कर इससे छुटकारा पा सकते हैं। इससे आपको उल्टी नहीं होगी। इसके साथ ही घबराहट होने पर भी थोड़ा-थोड़ा अदरक का सेवन करते रहे।

नींबू (Lemon is beneficial in nausea)

नींबू एक असरदार औषधि है, इसमें मौजूद सिट्रिक एसिड उल्टी और जी मिचलाने की समस्या को रोकने में मदद करता है। एक कप गर्म पानी में 1 नींबू का रस और नमक मिला लें। या फिर नींबू के रस को गर्म पानी में मिलाकर शहद डालकर भी सेवन कर सकते हैं। यात्रा के दौरान होने वाली परेशानियों से बचने के लिए ये कारगर उपाय है।

पुदीना (Get rid of the problem of nausea with mint)

जी मिचलाने की समस्या में पुदीना काफी लाभ पहुंचा सकता है। ताजा पुदीने की पत्तियों को चबाने से मतली से छुटकारा मिलता है। पुदीने का स्वाद फ्रेश और ठंडा होता है, जिससे पेट को शांत करने में मदद मिलती है।

जी मिचलाने में खाए लौंग (Eat cloves in nausea)

जी मिचलाने की समस्या से छुटकारा पाने के लिए कुछ लौंग के टुकड़े को चबाने से काफी लाभ मिलता है। लौंक की सुगंध और स्वाद उल्टी को रोक सकती है।

सौंफ (Benefits of fennel in nausea)

सौंफ में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो शरीर के लिए बेहद आवश्यक हैं। सौंफ को चबाने या सौंफ की चाय पीने से पेट को शांत करने और उल्टी को नियंत्रित करने में मदद मिलती है।

इलायची (Use cardamom like this when you feel nauseous)

इलायची मतली से निपटने में मदद करती है। आयुर्वेद के मुताबिक, इलायची के बीज चबाने से मतली को शांत करने में मदद मिल सकती है। या फिर पिसी हुई इलायची को शहद में मिलाकर सेवन करने से भी मतली की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Ritu Raj
reaction-emoji
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now