Create

ब्लड शुगर लेवल नहीं हो रहा कंट्रोल? तो दूध में मिलाकर पिएं ये चीजें : Blood Sugar Level Nahi Ho Raha Control Toh Kare Yee Kaam

ब्लड शुगर लेवल नहीं हो रहा कंट्रोल? तो दूध में मिलाकर पिएं ये चीजें, तुरंत मिलेगी राहत (फोटो - sportskeeda hindi)
ब्लड शुगर लेवल नहीं हो रहा कंट्रोल? तो दूध में मिलाकर पिएं ये चीजें, तुरंत मिलेगी राहत (फोटो - sportskeeda hindi)

डायबिटीज पेशेंट को अपने खाने पहने में हमेशा सतर्कता बरतनी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि जरा सी भी लापरवाही डायबिटीज के मरीजों का ब्लड शुगर लेवल तेजी से बढ़ा सकती है। जिसका असर शरीर पर पड़ता है। आज के समय में डायबिटीज की बीमारी बहुत आम हो गई है। डायबिटीज के मरीज़ को स्वस्थ रहने के लिए आपनी डाइट का खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। डायबिटीज के मरीजों को मीठी और मैदा वाली चीजों से दूर रहना चाहिए। इसमें प्रोटीन, कैल्शियम, विटामिन डी और पोटैशियम वाली चीज़ों का सेवन करना चाहिए। दूध में सभी प्रकार के पोषक तत्व होते हैं, दूध डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है। दूध पीने से शरीर को ताकत मिलती है। डायबिटीज मरीजों को दूध में इन तीन चीजे मिला कर पीने से काफी लाभ होता है।

ब्लड शुगर लेवल नहीं हो रहा कंट्रोल? तो दूध में मिलाकर पिएं ये चीजें : Blood Sugar Level Nahi Ho Raha Control Toh Kare Yee Kaam In Hindi

हल्दी का दूध- दूध में हल्दी मिलाकर पीना सेहत के लिए लाभकारी होता है। जुकाम होने पर, फीवर होने पर लोग हल्दी वाला दूध पीते हैं, लेकिन इससे डायबिटीज को भी कंट्रोल किया जा सकता है। हल्दी में करक्यूमिन पाया जाता है। इसे पीने से इम्यूनिटी मजबूत होती है और ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहता है।

दालचीनी वाला दूध- दालचीनी में कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम, विटामिन, एंटी-बैक्टीरियल आदि पाए जाते हैं। डायबिटिज मरीजों के लिए दालचीनी वाला दूध पीने से काफी फायदेमंद होता है। साथ ही इससे इंफेक्शन का भी खतरा कम रहता है और डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है।

बादाम का दूध- बादाम में कैलोरीज की मात्रा बहुत कम होती है। बादाम का दूध डायबिटीज मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है। बता दें बादाम में कैल्शियम, आयरन, फाइबर, प्रोटीन पाए जाते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment