Create

लौकी और चने की दाल खाने के फायदे : Lauki Aur Chana Dal Khane Ke Fayde

लौकी और चने की दाल की सब्जी खाने से सेहत को मिलते हैं ये 4 फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
लौकी और चने की दाल की सब्जी खाने से सेहत को मिलते हैं ये 4 फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)

हर व्यक्ति को स्वस्थ रहने के लिए स्वस्थ खान-पान की जरूरत होती है। इसके लिए उसे अपनी डाइट में सब्जी, दाल आदि को शामिल करने की सलाह दी जाती है। कुछ लोग सब्जी और दाल दोनों मिक्स करके बनाते हैं। इसमें लौकी और चने की दाल की सब्जी (Bottle Gourd and Chana Dal) सबसे फेमस है। लौकी और चने की दाल खाने में स्वादिष्ट और काफी पौष्टिक होती है। इसलिए आपको इसे अपनी डाइट (Bottle Gourd and Chana Dal) में जरूर शामिल करना चाहिए। जानते हैं लौकी और चने की दाल खाने के फायदे।

लौकी और चने की दाल की सब्जी के फायदे (Bottle Gourd and Chana Dal Benefits)

पाचन क्रिया को दुरुस्त बनाए - अगर किसी व्यक्ति का पाचन तंत्र कमजोर है, तो ऐसे में लौकी और चने की दाल की सब्जी का सेवन जरूर करना चाहिए। लौकी और चने की दाल की सब्जी पाचन को मजबूत बनाती है। साथ ही इससे कब्ज, उल्टी, डायरिया की समस्या भी दूर होती है। वहीं चने की दाल और लौकी की सब्जी गैस की परेशानी को भी दूर करती है।

प्रोटीन का अच्छा सोर्स - चने की दाल और लौकी में प्रोटीन काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता है। प्रोटीन लेने के लिए आप लौकी और चने की दाल की सब्जी बनाकर खा सकते हैं। इससे आपकी मांसपेशियां मजबूत बनेगी और साथ ही प्रोटीन की कमी भी पूरी होगी।

कोलेस्ट्राल लेवल घटाए - लौकी में मौजूद तत्व कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में व्यक्ति की मदद करते हैं। बता दें लौकी और चने की दाल की सब्जी खाने से शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल कम होता है और गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है। इसलिए दिल को स्वस्थ रखने के लिए भी आप लौकी और चने की दाल की सब्जी को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

वजन नियंत्रण में रखे - अगर कोई व्यक्ति अपना वजन कंट्रोल में रखना चाहता है, तो लौकी और चने की दाल की सब्जी को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। चने की दाल में फाइबर अधिक होता है, ऐसे में इस सब्जी को खाने से भूख जल्दी नहीं लगती। आप ओवरइटिंग से बचते हैं, वजन नियंत्रण में रहता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
1 comment