Create

कैल्शियम की कमी के लक्षण और घरेलू उपचार - Calcium Ki Kami Ke Lakshan Aur Gharelu Upchar

कैल्शियम की कमी के लक्षण और घरेलू उपचार (फोटो - sportskeedaहिंदी)
कैल्शियम की कमी के लक्षण और घरेलू उपचार (फोटो - sportskeedaहिंदी)

कैल्शियम (Calcium) एक ऐसा तत्व होता है जो हमारे शरीर के लिए ज़रूरी होता है। कैल्शियम हड्डियों को मजबूत रखने में, नसों व माशपेशियों को ताकत देने में मदद करता है। जैसा आप जानते हैं कि हड्डियों और दांतो में 99% कैल्शियम होता है। ऐसे में यदि कैल्शियम की कमी हो जाए तब शरीर को कई परेशानियां व बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। यदि शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाए तो हड्डियों में दर्द और कमजोरी, थकान जैसी समस्याएं बुरी तरह जकड़ लेती हैं। उम्र बढ़ने के साथ हमारे शरीर में कैल्शियम की अधिक कमी होने लगती है। इस लेख में कैल्शियम की कमी (Calcium deficiency) के लक्षण और घरेलू उपचार बताये गए हैं, आइये इस विषय में और जानें।।।

कैल्शियम की कमी के लक्षण और घरेलू उपचार - Calcium Ki Kami Ke Lakshan Aur Gharelu Upchar In Hindi

कैल्शियम की कमी के लक्षण : Symptoms Of Lack Of Calcium In Hindi

1. हड्डियों का कमजोर होना - शरीर में कैल्शियम की कमी होने पर हड्डिया कमज़ोर हो जाती हैं और उनके टूटने की संभावना बढ़ जाती है।

2. मांसपेशियों में ऐंठन - शरीर में कैल्शियम की कमी होने पर मांसपेशियों में ऐंठन होती है।

3. याद्दाश्त पर असर - कैल्शियम की कमी से याद्दाश्त पर भी फर्क पड़ता है।

4. शरीर का सुन्न पड़ जाना - कैल्शियम की कमी होने से शरीर सुन्न होने लगता है और हाथ-पैरों में झुनझुनाहट रहती है।

5. मासिक धर्म पर प्रभाव - शरीर में कैल्शियम की कमी होने पर पीरियड में गड़बड़ी होने लगती है।

6. दांतों की कमजोरी - दांत कमजोर हो जाना कैल्शियम की कमी का लक्षण है।

7. खून का जमाव - कैल्शियम की कमी से ब्लड क्लॉटिंग यानी खून का जमाव भी होने लगता है।

कैल्शियम की कमी होने पर अपनाएं यह घरेलू उपचार : Home Remedies For Calcium Deficiency In Hindi

1. दूध वाली चीज़ें - डेयरी प्रोडक्ट्स यानी दूध से बनी चीज़ों में सबसे अधिक कैल्शियम पाया जाता है। इसलिए जितना हो सके दूध, दही, पनीर आदि का सेवन करें।

2. रागी का सेवन करें - रागी का हफ्ते में एक बार किसी न किसी रूप में सेवन करें। दलिया, हलवा या खीर बनाकर ले सकते हैं।

3. आंवला का सेवन करें - आंवले में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। आंवला में एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं और इसे फल के रूप में भी खाया जा सकता है या पानी में उबालकर भी इसका सेवन किया जा सकता है।

4. तिल को अपनी डाइट में शामिल करें - तिल का सेवन कैल्शियम की कमी होने पर बहुत फायदेमंद होता है। एक टेबल स्पून तिल में लगभग 88mg कैल्शियम होता है। इसे अपने खाने का हिस्सा बनाएं जैसे सूप, अनाज या सलाद में डालकर इसे खाया जा सकता है।

5. टमाटर - टमाटर में विटामिन K होता है और ये कैल्शियम का भी अच्छा सोर्स होता है। टमाटर हड्डियों को तो मजबूत बनाता है, साथ ही शरीर में कैल्शियम की कमी को भी पूरी करता है। इसलिए रोजाना टमाटर को अपनी डाइट में शामिल करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment