Create

चिकनगुनिया का घरेलू इलाज 

चिकनगुनिया का घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
चिकनगुनिया का घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

चिकनगुनिया (Chikungunya) एक वायरल बीमारी है जो संक्रमित मच्छरों द्वारा मनुष्यों में फैलती है। यह एडीज एजिप्टी (Aedes aegypti) और एडीज एल्बोपिक्टस (Aedes Albopictus) हैं, जिन्हें आमतौर पर पीले बुखार के मच्छर के रूप में जाना जाता है। चिकनगुनिया की बीमारी शायद ही जानलेवा हो सकती है। चिकनगुनिया के लक्षण आत्म-सीमित होते हैं और 2-3 दिनों तक चलते हैं। चिकनगुनिया का वायरस मानव शरीर में 5-7 दिनों तक रहता है। इस दौरान संक्रमित व्यक्ति को काटने वाले मच्छर भी संक्रमित हो सकते हैं।

चिकनगुनिया के कई लक्षण डेंगू के समान होते हैं, जिसके परिणामस्वरूप उन क्षेत्रों में आसानी से गलत निदान किया जा सकता है जहां ये दोनों बीमारियां आम हैं। कुछ घरेलू उपायों का सहारा लेकर भी आप इस बीमारी से उभर सकते हैं। यह लेख आपको चिकनगुनिया के लिए घरेलू इलाज बताने जा रहा है।

चिकनगुनिया का घरेलू इलाज - Chikungunya Ka Gharelu Ilaaj In Hindi

1. एप्सम नमक (Epsom salt soak)

यह नमक दर्द को कम करने में मदद कर सकता है। एप्सम सॉल्ट में मैग्नीशियम सल्फेट क्रिस्टल (magnesium sulfate crystals) होते हैं जो सूजन (inflammation) और दर्द (pain) को कम करते हैं। इसके अलावा गर्म पानी शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाता है।

2. हल्दी (Turmeric)

चिकनगुनिया वायरस के कारण होने वाले दर्द को कम करने के लिए यह एक अत्यधिक प्रभावी घरेलू उपाय है। हल्दी में करक्यूमिन (curcumin) होता है जिसमें उच्च एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट होते हैं जो दर्द को कम करने में सहायक होते हैं।

3. अदरक (Ginger)

अदरक के एंटी-इंफ्लेमेटरी (anti-inflammator) और दर्द निवारक (pain-relieving) गुण दर्द से निपटने में मदद करते हैं और चिकनगुनिया के रोगियों को राहत प्रदान करते हैं।

4. नारियल पानी (Coconut water)

नारियल पानी का लिवर पर बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ता है और चिकनगुनिया का वायरस अक्सर शरीर को संक्रमित करने के बाद हमला करता है। नारियल पानी तेजी से ठीक होने में मदद करता है और चिकनगुनिया के लक्षणों को कम करता है।

5. तुलसी (Basil Leaves)

तुलसी शरीर के तापमान को कम करने में मदद करती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो इम्यून सिस्टम (immune system) को बूस्ट करते हैं और जल्दी ठीक होने में मदद करते हैं। आप बस तुलसी के पत्तों को दिन में एक से दो बार चबा सकते हैं या तुलसी के पत्तों को पानी में उबालकर पी सकते हैं।

6. सूरजमुखी के बीज और शहद (Sunflower seeds and Honey)

सूरजमुखी के बीज और शहद के पाउडर का मिश्रण एक बेहतरीन मिश्रण है जो जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है। सूरजमुखी के बीज जिंक (zinc) और विटामिन E से भरपूर होते हैं जो प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) के लिए आवश्यक हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...