रोजाना हींग का सेवन करने से सेहत को मिलेंगे ये 4 फायदे

रोजाना हींग का सेवन करने से सेहत को मिलेंगे ये 4 फायदे (sportskeeda Hindi)
रोजाना हींग का सेवन करने से सेहत को मिलेंगे ये 4 फायदे (sportskeeda Hindi)

हर घर में खाने में हींग (asafoetida) का इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि हींग से सेहत को बहुत लाभ मिलता है। हींग के सेवन से लगभग दैनिक जरूरत का 2% पोटैशियम, 1% कार्बोहाइड्रेट, 10% आयरन और 1% कैल्शियम की जरूरत पूरी हो सकती है। यह ब्लड प्रेशर नियंत्रित करना और सांस की नली में हो गई सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है। इसमें एंटी वायरल, एंटी बैक्टेरियल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण भी मौजूद हैं। इसकी डायरेटिक प्रॉपर्टी भी सेहत के लिए फायदेमंद हैं।

youtube-cover

रोजाना हींग का सेवन करने से सेहत को मिलेंगे ये 4 फायदे - Consuming asafoetida daily will give you these 4 health benefits in hindi

अस्थमा में - अस्थमा, सूखी खांसी होना, ब्रोंकाइटिस, जैसी समस्याओं को दूर करने के लिए हींग का सेवन लाभकारी होता है। हींग में एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटी वायरल और एंटी बायोटिक गुण पाए जाते हैं जो रेस्पोरेटरी डिसऑर्डर (respiratory system) और बीमारियों से निजात दिलाने में सहायक हैं।

एंटी एजिंग गुणों से भरपूर - हींग में एंटी एजिंग गुण मौजूद होते हैं और इसके इस्तेमाल से चेहरे की झुर्रियां भी कम की जा सकती है। हींग से आपकी स्किन (skin) में सुधार होता है और आप ब्राइट स्किन पाने में सक्षम हो सकते हैं। हींग को खाने की बजाए चेहरे पर भी अप्लाई किया जा सकता है।

ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक - अगर कोई व्यक्ति हाइपरटेंशन (hypertension) का मरीज हैं तो उसके लिए हींग का सेवन करना काफी सहायक हो सकता है। हींग को एक प्राकृतिक ब्लड थिनर माना जाता है और इस प्रकार ही यह ब्लड प्रेशर लेवल को कम करने में सहायक है। हींग का सेवन करने से शरीर में ब्लड क्लॉट भी नहीं बनता।

ब्लोटिंग समस्या से निजात - बहुत से लोग दोपहर के खाने के साथ छाछ का सेवन करते हैं और उसमें हींग और काला नमक जरूर मिलाते हैं। इससे हींग आपके पाचन तंत्र (digestion) में सुधार करती है। इससे आपको अपच न होना या फिर खाना खाने के बाद पेट फूलना जैसी स्थितियों का सामना नहीं करना पड़ता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan