थायराइड में धनिया के पत्तों और अनार का जूस पीने के फायदे

थायराइड में धनिया के पत्तों और अनार का जूस पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)
थायराइड में धनिया के पत्तों और अनार का जूस पीने के फायदे (sportskeeda Hindi)

अगर किसी महिला के हार्मोनल असंतुलन हो जाएं, तो इसकी वजह से महिलाओं को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। हालांकि, देखा जाए तो पुरुषों को भी हार्मोनल असंतुलन के कारण कई दिक्कतें होने लगती हैं। लेकिन महिलाओं को इससे ज्यादा परेशानी होती है। हार्मोनल असंतुलन की वजह से पीसीओडी, पीसीओएस या फिर थायराइड जैसी समस्याएं हो सकती हैं। बात थायराइड हार्मोन की करें, तो ये हाइपोथायराइडिज्म या हाइपरथायराइडिज्म हो सकता है। जब शरीर में थायराइड हार्मोन का उत्पादन सही मात्रा में नहीं हो पाता है, तो इस वजह से थायराइड रोग हो जाता है। ऐसे में व्यक्ति को अपने खान-पान का सही तरीके से ख्याल रखना चाहिए। वहीं, थायराइड की समस्या में व्यक्ति के लिए धनिया के पत्तों और अनार का जूस पीना फायदेमंद होता है। तो आइए जानते हैं इसके बारे में।

youtube-cover

थायराइड में धनिया के पत्तों और अनार का जूस पीने के फायदे : Coriander Leaves and Pomegranate Juice Benefits for Thyroid In Hindi

थायराइड हार्मोन में सुधार होगा - अगर आप नियमित रूप से धनिया के पत्तों और अनार का जूस पिएंगे, तो इससे थायराइड हार्मोन में सुधार होगा। इस जूस को पीने से थायराइड फंक्शन में भी सुधार होता है।

टीएसएच लेवल कंट्रोल करे - थायराइड रोगियों के लिए टीएसएच लेवल को कंट्रोल में रखना बहुत जरूरी होता है। ऐसे में अगर आप रोजाना इस जूस का सेवन करते हैं, तो इससे टीएसएच लेवल भी कंट्रोल में रहेगा।

वजन घटाने में मददगार - थायराइड रोगियों का अक्सर वजन बढ़ने लगता है। अगर आप भी थायराइड रोगी हैं और आपका वजन बढ़ रहा है, तो आप धनिया के पत्तों और अनार के जूस का सेवन कर सकते हैं।

तनाव दूर करे - थायराइड रोगी तनाव और चिंता में भी घिरे रहते हैं। ऐसे में आपके लिए धनिया के पत्तों और अनार का जूस पीना फायदेमंद हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan