Create

डायबिटीज में इन 5 फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करना होगा फायदेमंद

डायबिटीज में इन 5 फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करना होगा फायदेमंद (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
डायबिटीज में इन 5 फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करना होगा फायदेमंद (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

टाइप 2 मधुमेह के रोगियों को रक्त शर्करा (blood sugar) के स्तर को बनाए रखने के लिए मौखिक हाइपोग्लाइसेमिक दवाओं पर निर्भर रहना चाहिए। हालांकि, दीर्घकालिक लाभों के लिए दवाओं या सर्जरी पर निर्भर रहना खतरनाक है। साक्ष्य बताते हैं कि कुछ खाद्य पदार्थ शुगर स्पाइक्स को रोकने में मदद कर सकते हैं और इंसुलिन प्रतिरोध में सुधार कर सकते हैं। ताजी सब्जियां, रेशेदार फल, स्वस्थ प्रोटीन और अच्छे फैट से भरपूर आहार मधुमेह वाले लोगों को लाभ पहुंचा सकता है। यह लेख डायबिटीज में अपनाने वाले फूड्स के बारे में है।

डायबिटीज में इन 5 फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करना होगा फायदेमंद - Foods For Diabetes In Hindi

हरी सब्जियां (Green Leafy Vegetables)

हरी पत्तेदार सब्जियों में पोषक तत्वों का भार होता है और कैलोरी में कम होती है। ये सब्जियां कार्बोहाइड्रेट में भी कम होती हैं जो हमारे रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ा सकती हैं। ये आहार फाइबर, फाइटोकेमिकल्स, विटामिन और खनिजों में समृद्ध हैं। इनके सेवन से टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस के खतरे को कम करने में मदद मिलती है।

साबुत अनाज (Whole Grains)

जब हम अपने आहार में परिष्कृत अनाज को साबुत अनाज से बदलते हैं, तो यह मधुमेह के खतरे को कम कर सकता है। परिष्कृत सफेद अनाज की तुलना में साबुत अनाज में फाइबर और पोषक तत्वों का भार होता है। फाइबर पाचन प्रक्रिया को धीमा कर देता है, इस प्रकार शरीर द्वारा पोषक तत्वों को धीमी गति से अवशोषित किया जाता है, जिससे रक्त शर्करा के स्तर में अचानक वृद्धि को रोका जा सकता है।

नट्स (Nuts)

टाइप 2 डायबिटीज के लिए नट्स बेहद फायदेमंद होते हैं। नियंत्रित आहार के साथ नट्स का सेवन करने से टाइप 2 मधुमेह के रोगियों में रक्त शर्करा के स्तर में सुधार करने में मदद मिल सकती है। बादाम खाने के बाद ब्लड शुगर और इंसुलिन के स्तर को नियंत्रित करने के लिए जाने जाते हैं। पिस्ता में ग्लूकागन जैसा पेप्टाइड 1 होता है, जो ग्लूकोज के स्तर को कम करता है, जिससे मधुमेह का खतरा कम होता है।

लहसुन (Garlic)

लहसुन के सेवन से ग्लाइसेमिक स्थिति में सुधार होता है और यह उपवास और प्रसवोत्तर रक्त शर्करा के स्तर को कम करने के लिए जाना जाता है। लहसुन में विटामिन B6 और विटामिन C भी होता है। विटामिन B6 कार्बोहाइड्रेट मेटाबोलिज्म में मदद करता है और विटामिन C रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है।

सेब का सिरका (Apple Cider Vinegar)

सेब से प्राप्त रस को किण्वन के अधीन करके सेब का सिरका बनाया जाता है। इसमें विटामिन C, B विटामिन और एसिटिक एसिड भी होता है। एप्पल साइडर विनेगर भोजन के बाद रक्त शर्करा के स्तर को प्रभावी ढंग से कम करता है और इंसुलिन के कार्य में सुधार करने के लिए भी जाना जाता है। यह टाइप 2 मधुमेह के रोगियों के लिए फायदेमंद है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...