Create

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं- Diet To Reduce Cholesterol Level In hindi

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं(फोटो-Sportskeeda hindi)
कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं(फोटो-Sportskeeda hindi)

आजकल की लाइफस्टाइल और गलत खान-पान की वजह से ज्यादातर लोगों में कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) की बीमारी देखने को मिल रही है। एक स्वस्थ शरीर के लिए कोलेस्ट्रॉल बहुत जरूरी होता है। लेकिन अगर अच्छे कोलेस्ट्रॉल की जगह खराब कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लगे, तो यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित होता है। क्योंकि शरीर में बढ़ता खराब कोलेस्ट्रॉल हार्ट की बीमारी का सबसे बड़ा कारण बनता है। कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की वजह से हार्ट अटैक तक का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए इसको कंट्रोल करना बहुत जरूरी होता है। कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए। क्योंकि कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की सबसे बड़ी वजह हमारा गलत खान-पान ही होता है। आइए जानते हैं कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या खाना चाहिए या क्या नहीं खाना चाहिए।

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण

  • हाथों पैरों का सुन्न होना
  • हाथों पैरों का ठंडा रहना
  • थकान और कमजोरी महसूस होना
  • सीढ़ियां चढ़ने पर सांस फूलना
  • अचानक से वजन बढ़ना
  • एड़ियों में दर्द होना

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं (Diet To Reduce Cholesterol Level In Hindi)

जानिए कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाना चाहिए

एवोकाडो का करें सेवन

एवोकाडो (Avocado) का सेवन कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार साबित होता है। क्योंकि एवोकाडो में फायटोस्टेरोल्स मौजूद होता है, जो शरीर में बढ़ते खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।

अखरोट का करना चाहिए सेवन

कोलेस्ट्रॉल को कम करने के अखरोट (Walnut) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि अखरोट में फाइबर, ओमेगा 3 फैटी एसिड मौजूद होता है। जो शरीर में बढ़ते खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है।

साबुत अनाज खाएं

कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए साबुत अनाज (Whole Grain) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि साबुत अनाज में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है। इसलिए इसका सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है।

फलों का करें सेवन

फलों (Fruits) का सेवन कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार साबित होता है। क्योंकि सभी फल पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। साथ ही फलों में वसा, सोडियम और कैलोरी की मात्रा काफी कम पाई जाती है। इसलिए फल का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर कंट्रोल होता है। इसके लिए आप सेब, कीवी, संतरा, अंगूर, अनार, नाशपाती जैसे फलों का सेवन कर सकते हैं।

लहसुन खाएं

लहसुन (Garlic) का सेवन कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर सबसे ज्यादा लाभदायक साबित होता है। क्योंकि लहसुन में एंटी- हाइपरलिपिडेमिया गुण मौजूद होता है, जो शरीर में बढ़े खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है। इसके लिए रोजाना सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ लहसुन खाना चाहिए

ग्रीन टी पिएं

कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने पर ग्रीन टी (Green Tea) का सेवन काफी लाभदायक साबित होता है। क्योंकि ग्रीन टी में कई तत्व मौजूद होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद करते हैं।

हरी सब्जियां होती है फायदेमंद

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर हरी सब्जियों (Vegetables) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि हरी सब्जियों में फाइबर मौजूद होता है। इसलिए इसका सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होता है। इसके लिए आप ब्रोकली, भिंडी, बैंगन, पालक, गाजर, मेथी, सेम जैसी सब्जियों का सेवन कर सकते हैं।

मसालों का करें सेवन

भारतीय मसालों में कई मसालों (Spices) का उपयोग किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं ये सभी मसाले औषधीय गुणों से भी भरपूर होते हैं। इसलिए अगर किसी का कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ गया हो, तो उसे मसालों का सेवन करना चाहिए। कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए हल्दी, मेथी, दालचनी, लौंग, काली मिर्च ये सभी मसाले लाभदायक साबित होते हैं।

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या नहीं खाना चाहिए

- कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने पर नमक (Salt) का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। नमक का कम मात्रा में सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल के साथ-साथ ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल रहता है। जिससे हार्ट अटैक का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है।

- कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर तली भुनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे चिप्स, फ़्रेंच फ्राइज, फ्राइड चिकन जैसी चीजें कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बहुत तेजी से बढ़ाती है।

- मांस में कोलेस्ट्रॉल का स्तर अधिक पाया जाता है। इसलिए अगर किसी का कोलेस्ट्रॉल लेवल काफी हाई है, तो उसे मांस का सेवन नहीं करना चाहिए। साथ ही अंडे की जर्दी का सेवन भी नहीं करना चाहिए।

- कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर हाई सैचुरेटेड फैट (high saturated fat) युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि हाई सैचुरेटेड फैट का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर काफी तेजी से बढ़ता है।

- कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने पर मीठा का सेवन काफी कम मात्रा में करना चाहिए। क्योंकि अगर आप अधिक मात्रा में मीठा का सेवन करते हैं, तो इससे कोलेस्ट्रॉल तेजी से बढ़ता है।

- कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर अधिक संतृप्त वसा वाले डेयरी उत्पाद (Dairy Products) का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे आइसक्रीम, बटर, चीज, क्रीम का सेवन नहीं करना चाहिए।

- ट्रांस फैट (Trans fat) वाली चीजों का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल के साथ-साथ ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर भी बढ़ सकता है। क्योंकि ट्रांस फैट शरीर के लिए नुकसानदेह होता है। ट्रांस फैट को एक तरह से खराब फैट भी कहा जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment