Create

आयुर्वेद के अनुसार क्या हैं सोंठ और शहद के फायदे

आयुर्वेद के अनुसार क्या हैं सोंठ और शहद के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
आयुर्वेद के अनुसार क्या हैं सोंठ और शहद के फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

सोंठ (Dry ginger) और शहद (Honey) के मिश्रण का सेवन करना आसान है और इसके अनेक फायदे होते हैं। शहद और सोंठ के इस संयोजन का उपयोग आयुर्वेद द्वारा अनुशंसित सर्दी और खांसी जैसी सांस की समस्याओं के इलाज के लिए लंबे समय से किया जाता रहा है। सोंठ सूखे अदरक से बनता है, सर्दियों में इसका उपयोग अधिक होता है। सोंठ और शहद दोनों के अपने व्यक्तिगत स्वास्थ्य लाभ हैं, जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट गुण और पाचन के लिए अच्छा होना, यही कारण है कि दोनों का संयोजन अतिरिक्त लाभ प्रदान करता है। कई गंभीर बीमारियों से बचाव के लिए भी शहद और सोंठ फायदेमंद माने जाते हैं। इस लेख में आप सोंठ और शहद के मिश्रण के फायदों (Dry Ginger And Honey Benefits) के बारे में पढ़ पाएंगे, आइये विस्तार से जाने।

आयुर्वेद के अनुसार क्या हैं सोंठ और शहद के फायदे : Dry Ginger And Honey Benefits In Hindi

1. खांसी और जुकाम में उपयोगी (Useful in cough and cold)

शहद बलगम को पतला करने के लिए ठीक माना जाता है, जो सांस लेने के मार्ग को अवरुद्ध करता है और ऊपरी श्वसन पथ के संक्रमण का कारण बनता है। इसी तरह सोंठ वायुमार्ग की सूजन को कम करने में मदद करता है। इसलिए, शहद और सोंठ दोनों का मिश्रण खांसी और सर्दी के लक्षणों के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपचार है।

2. दर्द निवारक के रूप में (Act as a painkiller)

सोंठ और शहद का संयोजन एक प्राकृतिक दर्द निवारक के रूप में जाना जाता है। भले ही सोंठ का स्वाद अदरक जैसा हल्का तीखा होता है, लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि यह एक एक्सपेक्टोरेंट है और यह दर्द से छुटकारा पाने में मदद करता है। सूखे अदरक, इसकी मजबूत सुगंध और एक एक्सपेक्टोरेंट होने के कारण, आपके साइनस को खोलता है और श्वसन तंत्र से बलगम को बाहर निकालने में मदद करता है।

3. गले की खराश में मददगार (Helpful in sore throat)

प्रदूषण, सर्दी-जुकाम गले की खराश के कई अन्य कारण भी हो सकते हैं। गले की खराश होने पर सोंठ और शहद का मिश्रण उपयोगी माना जाता है। ऐसे में सोंठ पाउडर और शहद के मिश्रण का सेवन आराम दे सकता है।

4. फेफड़ों की बीमारियों में मददगार (Helpful in lung related diseases)

फेफड़ों से जुड़ी बीमारियां जैसे अस्थमा का उपचार सोंठ और शहद के सेवन से किया जा सकता है। यहाँ तक की धूम्रपान या प्रदूषण में रहने के कारण जो क्षति फेफड़ों को पहुंचती है उस स्थिति में भी सोंठ पाउडर और शहद के मिश्रण का उपयोग कारगर साबित हुआ है। इनके सेवन से आपका रेस्पिरेट्री सिस्टम ठीक होता है और फेफड़े मजबूत होते हैं।

5. वजन कम करने के लिए (Helps in weight loss)

बढ़ते वजन को रोकने व कम करने में यह सोंठ और शहद का मिश्रण बहुत कामयाब घरेलू उपाय है। इसके फायदे लेने के लिए आप सुबह गर्म पानी में शहद के साथ सोंठ पाउडर मिलाकर ले सकते हैं।

youtube-cover

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment