दूध और इलायची के फायदे- Dudh Aur Elaichi Ke Fayde

दूध और इलायची के फायदे (फोटो-Sportskeeda hindi)
दूध और इलायची के फायदे (फोटो-Sportskeeda hindi)

दूध (Milk) पीना स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अगर दूध में इलायची (Cardamom) मिलाकर सेवन करते है, तो यह और भी ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। दूध में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, कैल्शियम और राइबोफ्लेविन, विटामिन ए, डी, के, ई, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयोडीन पाए जाते हैं। तो वहीं, इलायची में सोडियम, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, आयरन, कैल्शियम, विटामिन ए, विटामिन सी, जिंक जैसे कई तत्व पाए जाते हैं। इसलिए दोनों ही स्वास्थ्य के लिहाज से काफी फायदेमंद साबित होते हैं। जानिए दूध में इलायची मिलाकर पीने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

दूध और इलायची के फायदे (Dudh Aur Elaichi Ke Fayde In Hindi)

हड्डियां होती हैं मजबूत

दूध में इलायची मिलाकर पीने से हड्डियां (Bones) मजबूत होती है। अगर किसी की हड्डियां कमजोर होती है या जोड़ों में दर्द की शिकायत होती है, तो उनको दूध में इलायची मिलाकर पीना चाहिए।

पाचन शक्ति होती है मजबूत

दूध और इलायची दोनों ही में फाइबर की मात्रा पाई जाती है। इसलिए इसके सेवन से पाचन शक्ति (Digestion) मजबूत होती है। साथ ही खाना भी अच्छी तरह से डाइजेस्ट हो जाता है।

मुंह के छाले होते हैं ठीक

मुंह के छालों (Mouth Ulcer) के लिए भी दूध और इलायची बहुत फायदेमंद माना जाता है। अक्सर कर लोगों के मुंह में छालों की शिकायत हो जाती है, लेकिन अगर आप दूध में इलायची मिलाकर पीते हैं, तो उससे छाले ठीक हो जाते हैं।

ब्लड प्रेशर को करता है कंट्रोल

जिन लोगों को ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) की शिकायत होती है। उनको दूध में इलायची मिलाकर पीना चाहिए। क्योंकि दूध में इलायची मिलाकर पीने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।

सर्दी-जुकाम में फायदेमंद

अगर किसी को सर्दी-जुकाम Cold-Cough) की शिकायत हो, तो उसे इलायची वाले दूध का सेवन करना चाहिए। इससे सर्दी-जुकाम में काफी आराम मिलता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है

दूध में इलायची मिलाकर पीने से रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता बढ़ती है। जिससे किसी भी बीमारी से काफी हद तक बचा जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava