फैटी लिवर को प्रभावी ढंग से ठीक करने का सबसे तेज़ तरीका

फैटी लिवर को प्रभावी ढंग से ठीक करने का सबसे तेज़ तरीका (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
फैटी लिवर को प्रभावी ढंग से ठीक करने का सबसे तेज़ तरीका (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

अच्छे पाचन स्वास्थ्य, बेहतर प्रतिरक्षा और चयापचय के लिए एक स्वस्थ लिवर आवश्यक है। शरीर में दूसरे सबसे बड़े अंग के रूप में, लिवर को कई कार्य करने होते हैं। ऐसे में इसका अच्छा स्वास्थ्य जरूरी है। फैटी लिवर एक चिकित्सीय बीमारी है जो आज की पीढ़ी में काफी हद तक आम होती जा रही है। कई घरेलू तरीको से फैटी लिवर का प्रभावी ढंग से इलाज कर सकती हैं और आपके ठीक होने की गति बढ़ा सकती हैं। स्थिति के प्रभाव को कम करने में आपकी मदद करने के लिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं।

youtube-cover

फैटी लिवर को प्रभावी ढंग से ठीक करने का सबसे तेज़ तरीका (Fastest Way To Cure Fatty Liver Effectively In Hindi)

खूब सारा पानी पिएं (Drink Plenty of Water)

पानी किसी के स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यदि आप फैटी लिवर को रोकना या मुकाबला करना चाहते हैं, तो हाइड्रेटेड रहना आवश्यक है। डिहाइड्रेशन (Dehydration) इलेक्ट्रोलाइट्स (electrolytes) जैसे सोडियम और पोटेशियम और पोषक तत्वों के बीच असंतुलन का कारण बनता है। इससे लिवर में फैट जमा हो सकता है। खूब सारा पानी पीने से एक प्राकृतिक सफाईकर्ता के रूप में कार्य करेगा, वसा और विषाक्त पदार्थों को खत्म करेगा और रक्त प्रवाह में सुधार करेगा।

पौष्टिक भोजन करें (Have a Nutritious Meal)

फैटी लिवर के प्रबंधन में आहार एक आवश्यक भूमिका निभाता है। भूमध्यसागरीय आहार की तरह एक उचित आहार पैटर्न, आपको लिवर की चर्बी कम करने और वजन घटाने में मदद करेगा। मेडिटरेनीयन डाइट कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने, रक्तचाप को नियंत्रित करने और मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद करता है। सेब, संतरा, खजूर, खरबूजे, जामुन, पत्तेदार साग, शकरकंद और खीरे जैसे पौधे-आधारित खाद्य स्रोत लक्षणों में सुधार कर सकते हैं।

ग्रीन टी (Green Tea)

ग्रीन टी लिवर के लिए अच्छी होती है क्योंकि इसमें कैटेचिन (catechins) होता है, जो लिवर के कार्य को बढ़ावा देता है। इसके अतिरिक्त, ग्रीन टी कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करके लिवर में वसा के निर्माण को रोक सकती है। अंत में, रोजाना 2 कप ग्रीन टी पीने से शरीर के अन्य अंग डिटॉक्स हो जाएंगे।

हल्दी वाला दूध (Turmeric Milk)

हल्दी पाचन में सुधार करने और शरीर में वसा के संचय को रोकने में मदद कर सकती है। इसके समृद्ध एंटीऑक्सीडेंट गुण इसे स्वस्थ लिवर को बनाए रखने के लिए उपयुक्त बनाते हैं। एक गिलास दूध में एक चम्मच हल्दी मिलाकर इन लाभों को प्राप्त करने में मदद मिल सकती है।

नियमित रूप से व्यायाम करें (Exercise Regularly)

अध्ययनों से पता चलता है कि व्यायाम फिट रहने की कुंजी है और लिवर की स्थिति में मदद करने के लिए एक प्रभावी उपाय है। गतिहीन जीवन शैली को सीमित करने और शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने से फैटी लिवर और अन्य स्वास्थ्य जटिलताओं की शुरुआत को रोका जा सकता है।

चीनी का सेवन सीमित करें (Limit Sugar Intake)

वसायुक्त लिवर की समस्या वाले व्यक्तियों को उच्च फ्रुक्टोज या अतिरिक्त चीनी सामग्री वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए, क्योंकि ये वसा के जमाव और यकृत की सूजन को बढ़ावा देकर स्थिति के लक्षणों को और खराब कर सकते हैं। ऐसे खाद्य पदार्थों के सामान्य उदाहरणों में कैंडी, केक, कुकीज, ऊर्जा पेय, आइसक्रीम, खेल या शीतल पेय, शक्करयुक्त अनाज और प्रसंस्कृत दही शामिल हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now