Create

घर बैठे फैटी लिवर के लक्षण जाने और अपनाएं घरेलू उपचार : Fatty Liver Symptom And Home Remedy

घर बैठे फैटी लिवर के लक्षण जाने और अपनाएं घरेलू उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
घर बैठे फैटी लिवर के लक्षण जाने और अपनाएं घरेलू उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

भारत में हर 10 में से एक व्यक्ति को फैटी लिवर (fatty liver) की बिमारी है। स्किन के बाद, लिवर ही हमारी बॉडी का दूसरा सबसे बड़ा ऑर्गन होता है। इसका काम हर एक चीज जो हम खाते या पीते हैं को प्रोसेस करना और खून को फ़िल्टर करना।

आमतौर पर लिवर खुदको रिपेयर करता है, लिवर खराब हुए सेल्स की जगह नए लिवर सेल्स बना कर खुद को कार्य के लायक बना लेता है। लेकिन बार-बार डैमेज होने पर वह खुद को ठीक नहीं कर पाता और ऐसे में स्कार टिश्यू आम लिवर टिश्यू से खुदको बदल देता है। इस कंडीशन को सिरोसिस (Cirrhosis) कहते हैं। इस लेख में आप घर बैठे फैटी लिवर के लक्षण व उनके घरेलू उपचार के बारे में जान पाएंगे है, आइये आगे पढ़ें।

घर बैठे फैटी लिवर के लक्षण जाने और अपनाएं घरेलू उपचार : Fatty Liver Symptom And Home Remedy In Hindi

फैटी लिवर के लक्षण :-

फैटी लिवर के लक्षण बहुत साफ़ नहीं होते, अक्सर जिन्हें ये बीमारी होती है उन्हें इसके बारे में पता ही नहीं चलता है। इससे जुड़े लक्षण सामने आने में सालों लग सकते हैं। लिवर में अधिक फैट का होना उसमे सूजन ला सकता है और तब आपको निम्नलिखित लक्षण दिखाई दे सकते हैं- थकान लगना, वजन घटना, भूख ना लगना, कमजोरी, जी मिचलाना, भ्रम होना, ध्यान केन्द्रित करने में दिक्कत होना, लिवर का साइज़ में बढ़ जाना, पेट के उपरी हिस्से या बीच में दर्द होना, आपकी गर्दन पर या आपकी बाहों के नीचे की त्वचा में गाढ़े रंग का पैच होना।

इसके अलावा यदि फैटी लिवर डिजीज सिरोसिस या लिवर फेलियर में परिवर्तित हो रही है तो आपको ये लक्षण दिखाई दे सकते हैं- पहले से बढ़ा, तरल पदार्थ से से भरा पेट, त्वचा और आंखों में पीलापन होना, उलझन, अधिक आसानी से खून बहने की प्रवृत्ति।

किस कारण से हो सकता है फैटी लिवर? :-

फैटी लिवर तब डेवलप होता है जब बॉडी बहुत अधिक फैट बनाती है या बने हुए फैट को तेजी से मेटाबोलाइज नहीं कर पाती है। ऐसा होने पर जो अत्यधिक फैट होता है वह लिवर सेल में इकठ्ठा हो जाता है और इस तरह से व्यक्ति को फैटी लिवर की बीमारी हो जाती है। अलक्होलिस्म के अलावा, फैटी लिवर के अन्य कारण हो सकते हैं : मोटापा, हाइपरलिपिडाइमिया या रक्त में वसा का उच्च स्तर, मधुमेह, आनुवंशिक, तेजी से वजन घटना, एस्पिरिन, स्टेरॉयड, टैमोक्सिफेन, आदि दवाओं का साइड इफेक्ट।

फैटी लिवर के लिए घरलू उपचार :-

फैटी लिवर को ठीक करने के लिए कोई अलग दवा या सर्जरी नहीं है बल्कि डॉक्टर आपको इस बीमारी के लिए परहेज करने के सुझाव देंगे, जैसे कि- अल्कोहल का सेवन कम या बंद करना, अपने कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करना, चीनी और सैचुरेटेड फैटी एसिड का सेवन कम करना, वजन घटना, ब्लड सुगर को नियंत्रित करना, शारीरिक श्रम करना, कुछ खानों से परहेज करना, ताजे फल व सब्जियां खाना, रेड मीट की जगह चिकन या फिश खाना।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment