Create

हीमोग्लोबिन की कमी होने पर क्या खाएं? : Hemoglobin Ki Kami Hone Par Kya Khayein

हीमोग्लोबिन की कमी होने पर क्या खाएं (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
हीमोग्लोबिन की कमी होने पर क्या खाएं (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने पर हीमोग्लोबिन की मात्रा भी कम होजाती है। महिलाएं इसकी अधिक शिकार होती हैं। खानपान में कुछ चीजों को प्राथमिकता देकर हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाया जा सकता है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सभी पोषक तत्वों की मात्रा संतुलित होना चाहिए ताकि हीमोग्लोबिन का स्तर सही रहे। इस लेख में खान-पान का सुझाव दिया गया है ताकि हीमोग्लोबिन की कमी को पूरी हो पाए।

हीमोग्लोबिन की कमी होने पर क्या खाएं? : Hemoglobin Ki Kami Hone Par Kya Khayein In Hindi

1. हरी सब्जियां (Green vegetables)

डाइट में केल, पालक और अन्य हरी सब्जियां खाएं। ये आयरन का प्रमुख स्त्रोत हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। इन चीजों का सेवन करने से एनीमिया की परेशानी नहीं होगी।

2. अनार (Pomegranate)

अनार आयरन, कैलशियम, फाइबर और अन्य पोषक तत्वों से भरा होता है। जिन लोगों में खून की कमी होती है उन्हें अनार खाने की सलाह दी जाती है। इस फ्रूट को लगातार खाने से हीमोग्लोबिन मेंटेन रहता है।

3. खजूर (Date)

खूजर में कई तरह के पोषक तत्व होते हैं जो हेल्दी रखने में मदद करते हैं। इसमें आयरन की भरपूर मात्रा होती है जो रेड ब्लड सेल्स को काउंट को बढ़ाने में मदद करता है।

4. सिट्रस फ्रूट्स (Citrus fruits)

आप अपने आहारा में संतरा, नींबू, अंगूर आदि का सेवन कर सकते हैं। ये चीजें विटामिन सी का मुख्य स्त्रोत है। विटामिन स आयरन को एब्जॉर्ब करने में मदद करता है। इससे शरीर में हीमोग्लोबिन मेंटेन रहता है। खट्टे फल सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।

5. फली वाले अनाज (Legumes)

खानपान में लेगम्स (फली वाले अनाज) शामिल किए जाने चाहिए क्योंकि ये हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ाते हैं। इनमें सोयाबीन, सफेद राजमा और चने आदि शामिल हैं।

6. सीड्स और नट्स (Seeds and nuts)

आप डाइट में कद्दू के बीज, चिया और फ्लेक्स सीड्स, बादाम, काजू और पीनट को शामिल कर सकते हैं। इन चीजों में ऑयरन की भरपूर मात्रा होती है। ये शरीर में आयरन को एब्जार्ब करने में मदद करते हैं और हीमोग्लोबिन के लेवल को नियंत्रित रखते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment