Create
Notifications

अर्थराइटिस का घरेलू उपचार : Gathia Ka Gharelu Upchar

अर्थराइटिस का घरेलू उपचार (फोटो - myupchar)
अर्थराइटिस का घरेलू उपचार (फोटो - myupchar)
Naina Chauhan
ANALYST

अर्थराइटिस की समस्या आम तौर पर बड़े बुजुर्गों की बीमारी है। लेकिन लोगों की लाइफस्टाइल और खान-पान में बदलाव होने के कारण स्वास्थ्य से जुड़ी कई परेशानियों देखने को मिलती हैं। लोगों की हड्डियां, मांसपेशियां कमजोर हो रही हैं। इस कारण उन्हें कई प्रकार की बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसी ही एक बीमारी है अर्थराइटिस । जानते हैं अर्थराइटिस का घरेलू उपचार।

अर्थराइटिस का घरेलू उपचार : Gathia Ka Gharelu Upchar In Hindi

हल्दी का सेवन - हल्दी का सेवन अक्सर लोग खाना बनाने में करते हैं। इसमें नेचुरल एंटीसेप्टिक है। खास तौर पर हड्डियों की बीमारी के इलाज में ये बेहद कारगर माना जाता है। इसमें करक्यूमिन नामक तत्व पाया जाता है जो हड्डियों के सूजन को कम करने में मदद करता है।

मेथी का उपयोग - मेथी का सेवन अक्सर लोग मसाले के रूप में करते हैं। इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटी आर्थराइटिक का प्रमुख स्रोत माना गया है। साथ ही इसमें सैचुरेटेड और अनसैचुरेटेड फैटी एसिड भी होता है जो हड्डियों के सूजन व दर्द को कम करने में मदद करता है।

लहसुन का सेवन - लहसुन कई बीमारियों को ठीक करने में बेहद गुणकारी माना जाता है। इससे हड्डियों में कम होने वाले कार्टिलेज को सही करने में मदद मिलती है। इसलिए अगर आप गठिया के मरीज हैं तो आपको नियमित तौर पर लहसुन खाना चाहिए। ना केवल सब्जियों में बल्कि रोजाना सुबह अगर आप 4 से 5 लहुसन की कच्ची कलियां चबाकर खाते हैं तो ये आपकी हड्डियों के लिए रामबाण साबित हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now