गेंदा के औषधीय गुण-Genda Ke Aushadhi Gun

गेंदा के औषधीय गुण(फोटो-Sportskeeda hindi)
गेंदा के औषधीय गुण(फोटो-Sportskeeda hindi)

गेंदा के फूल (Marigold) देखने में बहुत सुंदर लगते हैं। गेंदा के फूल का उपयोग ज्यादातर पूजा-पाठ, घर की सजावट के लिए किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि गेंदा औषधीय गुणों से भरपूर होता है। गेंदा स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। गेंदा के फूल में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो कई बीमारियों में लाभदायक साबित होते हैं। गेंदा में एंटी फंगल, एंटी एलर्जिक और एंटी ऑक्सीडेंट्स जैसे गुण पाए जाते हैं। जानिए गेंदा के औषधीय गुणों के बारे में।

गेंदा के औषधीय गुण (Genda Ke Aushadhi Gun In Hindi)

बुखार में फायदेमंद

गेंदा बुखार (Fever) में काफी फायदेमंद माना जाता है। गेंदे की चाय के सेवन से बुखार को जड़ से खत्म किया जा सकता है। इसके लिए गेंदे की पंखुड़ियों को पानी में मिलाकर उबाल लेना चाहिए। फिर जब पानी अच्छी तरह से उबाल जाए, तो उसमें शहद मिलाकर पी लेना चाहिए।

कान में दर्द की शिकायत होती है दूर

गेंदे की पत्तियों का रस कान के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। अगर किसी के कान में दर्द की शिकायत हो, तो उसे गेंदे की पत्तियों के रस को कान में डालना चाहिए। इससे कान के दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

आंखों के लिए फायदेमंद

गेंदा आंखों के लिए भी काफी लाभदायक साबित होता है। गेंदा आंखों की किसी भी तरह की एलर्जी को ठीक करता है। इसके लिए गेंदे की पत्तियों के रस को आंखों के चारों तरफ लगाना चाहिए। इससे आंखों की रोशनी भी बढ़ती है।

किडनी की पथरी होती है ठीक

अगर कोई गेंदे की पत्तियों के काढ़े का सेवन करता है, तो उससे किडनी की पथरी (Kidney stone) भी ठीक हो जाती है। इसके लिए रोजाना नियमित रूप से गेंदा के काढ़े का सेवन करना चाहिए।

माइग्रेन में फायदेमंद

गेंदा का फूल माइग्रेन (Migraine) के दर्द से भी छुटकारा दिलाता है। इसके लिए गेंदा के फूल को सुखाकर उसका चूर्ण बना लेना चाहिए। फिर उसमें सरसों का तेल मिलाकर सिर पर मालिश करनी चाहिए।

दांत दर्द से मिलता है छुटकारा

गेंदे की पत्तियां दांत दर्द में काफी फायदेमंद मानी जाती हैं। अगर किसी को दांत में दर्द की शिकायत हो, तो उसे गेंदे की पत्तियों को पानी में उबाल कर कुल्ला करना चाहिए। इससे दांत दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

त्वचा के लिए फायदेमंद

गेंदा के फूल और पत्तियों का रस त्वचा (Skin) के लिए भी काफी लाभदायक साबित होता है। गेंदा के रस को त्वचा पर लगाने से चेहरे पर चमक आती है। साथ ही पिंपल्स और झुर्रियों जैसी शिकायत से भी छुटकारा मिल जाता है।

भूख बढ़ती है

गेंदे की पत्तियों के रस से भूख न लगने की शिकायत दूर हो जाती है। अगर किसी को भूख न लगती हो, तो उसे गेंदे की पत्तियों के रस का सेवन करना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।