Create

आंतों में गैस बनना: Aanton Mein Gas Banna 

आँतों में गैस बनना खराब और खतरनाक है (फोटो: Satyagrah)
आँतों में गैस बनना खराब और खतरनाक है (फोटो: Satyagrah)

आँतों में गैस बनना (Gas in Intestine) एक बड़ी बीमारी का संकेत है। गैस बनना कोई परेशानी का कारण नहीं है क्योंकि जब आपके पेट (Stomach) और लिवर (Liver) में खाना और उसका मल जाता है तो उस दौरान उनपर कुछ एसिड काम करते हैं। इसके कारण गैस उत्पन्न होती है।

ये गैस यदि सीमित मात्रा में है तो कोई दिक्कत नहीं है लेकिन अगर इसकी मात्रा बढ़ जाती है तो ये एक बीमारी है। बीमारी को जीवन का हिस्सा ना बनाएं। ये आपके या आपके जाननेवाले एवं प्रियजनों के लिए ठीक नहीं है। सेहत को ठीक रखना पहली प्राथमिकता है और होनी ही चाहिए क्योंकि अगर ये नहीं है तो सब गड़बड़ है।

अगर आप अधिक मात्रा में गैस को बनते हुए महसूस कर रहे हैं तो इसका अर्थ है किआँतों में गैस बन रही है जो अच्छी बात नहीं है। इसको ध्यान में रखते हुए आइए आपको बताते हैं उन चीजों के बारे में जिनको करके आप अपनी आँतों में गैस बनने की समस्या को हमेशा के लिए खत्म कर सकते हैं।

आंतों में गैस बनना: Aanton Mein Gas Banna

खाने को चबाकर खाएं: Chew Food Properly

खाने को अगर आप चबाकर नहीं खाते हैं तो उससे भी अधिक गैस बनती है। आपका पेट अच्छे से काम करने के लिए खाने को पचाने का काम करता है। अगर खाना उसे छोटी मात्रा में मिलेगा तो वो उससे काफी लाभ प्राप्त करेगा जो एक अच्छी बात है। इसलिए अपनी सेहत का ध्यान रखें और खानें को चबाएं।

सोडा और कोल्ड्रिंक बंद कर दें: Don't consume soda or colddrink

सोडा और कोल्ड्रिंक आपके आधार पर पेट को लाभ देती हैं जबकि हकीकत इससे उलट है। सोडा और कोल्ड्रिंक या कोई भी कार्बोनेटेड ड्रिंक आपके शरीर को नुकसान देती है। इसलिए ऐसी कोई चीज ना करें जिससे आपको नुकसान हो और अपनी सेहत का खास ध्यान रखें क्योंकि वो जरूरी है।

मीठा और नमकीन एक साथ ना खाएं: Don't ear sweet and salty together

मीठा और नमकीन एक साथ खाने से आप अपने शरीर के खून को खराब करते हैं। ये बात सिर्फ चाय के दौरान ही नहीं बल्कि अन्य स्थितियों में भी सच साबित होती है। इसलिए कभी भी इन दोनों का एक साथ सेवन ना करें। अगर आपको खाने के बाद मीठा खाने की आदत है तो कम से कम पंद्रह और अधिकतम तीस मिनट का अंतराल जरूर रखें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Be the first one to comment