Create

घुटनों के दर्द के लिए 5 रामबाण उपाय

घुटनों के दर्द के लिए 5 रामबाण उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
घुटनों के दर्द के लिए 5 रामबाण उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

घुटने का दर्द एक सामान्य स्थिति है जो अल्पकालिक और दीर्घकालिक दोनों समस्याओं के कारण हो सकता है। घुटने की कई अल्पकालिक समस्याओं के लिए डॉक्टरों की मदद की आवश्यकता नहीं होती है और कुछ उपायों को अपनाकर भी आप आराम पा सकते हैं। घरेलू उपचार भी घुटने के दर्द के साथ कई दीर्घकालिक समस्याओं में मदद कर सकते हैं। यह लेख आपको घुटनों के दर्द के लिए रामबाण उपाय बताने जा रहा है।

घुटनों के दर्द के लिए 5 रामबाण उपाय - Ghutno Ke Dard Ke Liye Ramban Upaay In Hindi

1. अदरक (Ginger)

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी यौगिक होते हैं जो सूजन को कम करने में मदद करते हैं। यह जड़ी बूटी जिंजरोल नामक यौगिक से भरपूर होती है, जो सूजन-रोधी होती है। अदरक के तेल का सामयिक अनुप्रयोग, साथ ही अदरक की चाय पीने से मदद मिल सकती है। आप अदरक को गर्म पानी में शहद के साथ मिलाकर भी पी सकते हैं।

2. हल्दी (Turmeric)

हल्दी एक जादुई मसाला है जिसके बेहतरीन स्वास्थ्य लाभ हैं। इसमें एंटीसेप्टिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। इसमें करक्यूमिन होता है जो हल्दी में पाया जाने वाला एक एंटी-इंफ्लेमेटरी रसायन है जिसमें बहुत सारे एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। इसकी जड़ रुमेटीइड गठिया (rheumatoid arthritis) की प्रगति को धीमा कर देती है, जो घुटने के दर्द के कारणों में से एक है। तुरंत राहत पाने के लिए आधा चम्मच पिसी हुई अदरक और हल्दी को एक कप पानी में 10 मिनट तक उबालें। इसके बाद छान लें और स्वादानुसार शहद मिलाएं। इस 'चाय' को दिन में दो बार पिएं।

3. तुलसी (Tulsi)

तुलसी या होली बेसिल गठिया पर इसके जादुई प्रभावों के लिए जानी जाती है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-स्पास्मोडिक गुण होते हैं। तुलसी जोड़ों के दर्द और गठिया से जुड़े दर्द से राहत दिलाने का भी काम करती है। घुटने के दर्द से राहत पाने के लिए आप दिन में 3-4 बार तुलसी की चाय पी सकते हैं।

4. एप्सम सॉल्ट (Epsom salt)

एप्सम सॉल्ट जोड़ों के दर्द और सूजन को कम करने के लिए एक एंटी-इंफ्लेमेटरी के रूप में काम करता है। इसमें मैग्नीशियम और सल्फेट होता है, ये दोनों शक्तिशाली दर्द निवारक एजेंट हैं। आप अपने नहाने के पानी में एक चम्मच एप्सम सॉल्ट डाल सकते हैं और उसमें खुद को 30 मिनट के लिए भिगो दें।

5. गर्म और ठंडा कम्प्रेशन (Heat and cold compression)

गर्म और ठंडा दोनों कम्प्रेशन एक एंटी-इंफ्लेमेटरी के रूप में काम करते हैं। लेकिन आपके द्वारा चुना गया उपचार आपके दर्द के प्रकार पर निर्भर करता है। गर्मी मांसपेशियों को आराम देती है और चिकनाई में सुधार करती है, जिससे कठोरता में कमी आती है। बेहतर परिणामों के लिए, आप गर्म पानी की बोतल या गर्म पैड का उपयोग कर सकते हैं। यदि आपके घुटने में सूजन हो जाती है तो लंबे दिन के अंत में बर्फ भी एक अच्छा विकल्प हो सकता है। आप एक आइस क्यूब को कपड़े में लपेट कर प्रभावित हिस्से पर लगा सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...