Create

हथेलियों में Ghee लगाने के फायदे : Hatheli Me Ghee Lagane Ke Fayde

 हथेलियों में  ghee लगाने के फायदे  (फोटो - sportskeeda hindi)
हथेलियों में ghee लगाने के फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)

शरीर को सेहतमंद Healthy Body रखने के लिए हर किसी को उसकी मालिश करनी बहुत फायदेमंद होती है, ऐसा करने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन Blood circulation बढ़ता है, साथ ही त्वचा संबंधी समस्याएं भी दूर होती हैं। अक्सर आपने देखा होगा जब कोई शरीर की मलिश करता है तो वह सिर से लेकर पैर के तलवों तक मलिश करता है, लेकिन अपनी हथेलियों की मालिश नहीं करता। लेकिन अगर आप अपनी हथेलियों की मालिश भी करेंगे तो इससे सेहत को बहुत फायदा होगा। आमतौर पर लोग मालिश के लिए सरसों का तेल, नारियल तेल coconut oil और कई अन्य तेलों का प्रयोग करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं अगर आप शरीर की मालिश के लिए घी का उपयोग करते हैं, इससे सेहत से संबंधी बहुत लाभ मिलते हैं। हथेलियों में घी लगाने से कई गंभीर रोगों के जोखिम को कम किया जा सकता है। घी में हेल्दी फैट्स Healthy fats मौजूद होते हैं, साथ ही विटामिन A, विटामिन C, विटामिन D, विटामिन K के अलावा कई विटामिन Vitamins और मिनरल्स minerals भी मौजूद होते हैं। जानते हैं हथेलियों में घी लगाने के फायदे (hatheli me ghee lagane ke fayde In Hindi).

हथेलियों में Ghee लगाने के फायदे : Hatheli Me Ghee Lagane Ke Fayde In Hindi

त्वचा कोमल होती है - अगर आप अपने हाथों की कठोर त्वचा से परेशान हैं तो ऐसे में इस समस्या को दूर करने के लिए हाथों की हथेलियों पर घी से मालिश करें। इससे आपके हाथ कोमल होंगे।

ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है - अगर आप हथेलियों में घी लगाकर हथेलियों को आपस में अच्छे से रगड़ते हैं, तो यह शरीर में ब्लड सर्कुलेशन blood circulation को बेहतर बनाने में मदद करता है। जिससे आपके शरीर के अलग-अलग हिस्सों में रक्त और पोषक तत्वों को पहुंचाने में मदद मिलती है।

वात दोष दूर होता है - शरीर में वात दोष को दूर करने के लिए आप घी Ghee से हथेलियों की मालिश कर सकते हैं, क्योंकि वात दोष बिगड़ने पर कई गंभीर बीमारियों का जोखिम बढ़ने लगता है, इसलिए इसे दूर करना बहुत जरूरी होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment