कच्चा जीरा खाने से मिलते हैं ये 6 फायदे

कच्चा जीरा खाने से मिलते हैं ये फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
कच्चा जीरा खाने से मिलते हैं ये फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)

जीरा एक ऐसा मसाला है, जिसका इस्तेमाल भोजन में तड़का लगाने के लिए किया जाता है। जीरा खाने का स्वाद तो बढ़ाता ही है, साथ ही सेहत को भी कई लाभ पहुंचाता है। जीरे का सेवन वैसे तो कई तरीकों से किया जा सकता है, लेकिन क्या आपने कभी कच्चे जीरा का सेवन किया है। कच्चे जीरा का सेवन सेहत के लिए बेहद गुणकारी होता है। कच्चे जीरा का सेवन करने से हड्डियां मजबूत होती है, वजन कम होता है, साथ ही कई बीमारियों से भी बचाव होता है। क्योंकि कच्चा जीरा फाइबर, आयरन, कैल्शियम, विटामिन ई, जिंक, मैग्नीशियम, मैंगनीज जैसे तत्व पाए जाते हैं, जो आपको कई रोगों से बचाने में मदद करते हैं। तो आइए जानते हैं कच्चा जीरा खाने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

youtube-cover

कच्चा जीरा खाने से मिलते हैं ये 6 फायदे-Health Benefits Of Eating Raw Cumin In Hindi

पाचन में करे सुधार

कच्चा जीरा पाचन (Digestion) को सुधारने में मदद करता है। यह पाचन एंजाइमों को सक्रिय करने में और अपच, एसिडिटी, गैस के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।

वजन को करे कम

अगर आप वजन कम (Weight loss) करना चाहते हैं, तो आपको कच्चे जीरा का सेवन करना चाहिए। क्योंकि यह मेटाबॉलिज्म को बढ़ाकर शरीर के तत्वों को पचाने में मदद करता है, जिससे आपका वजन तेजी से कम हो सकता है।

प्रतिरक्षा प्रणाली बनाए मजबूत

अगर आप नियमित रूप से कच्चे जीरा का सेवन करते हैं, तो इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट गुण शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली (Immunity) को मजबूत बनाने में मदद करता है, जिससे आपका संक्रमण से बचाव होता है।

हड्डियों को बनाए मजबूत

बढ़ती उम्र में अधिकतर लोगों को हड्डियों, जोड़ों में दर्द की समस्या से जूझना पड़ता है। ऐसे में अगर आप कच्चे जीरा का सेवन करते हैं, तो इसमें मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूत (Strong Bones) बनाता है और हड्डियों से जुड़ी परेशानियों को दूर करने में मदद करता है।

खून की कमी करे दूर

कच्चा जीरा आयरन (Iron) का अच्छा सोर्स माना जाता है, जो खून की कमी को दूर करने में मदद करता है। अगर आप कच्चे जीरा का सेवन करते हैं, तो इससे शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ता है और खून की कमी दूर होती है।

रक्तचाप को करे नियंत्रित

कच्चा जीरा उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure) को नियंत्रित करने में मददगार हो सकता है। क्योंकि इसमें मौजूद पोटैशियम और अन्य पोषक तत्व रक्तचाप को कम करने में मदद करते हैं, जिससे दिल से जुड़ी बीमारी का खतरा कम होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
App download animated image Get the free App now