Create
Notifications

हिचकी का इलाज - Hichki Ka Ilaaj 

हिचकी का इलाज (source - google images)
हिचकी का इलाज (source - google images)
Vineeta Kumar
visit

लगभग सभी को कभी न कभी हिचकी जरूर आती है। जबकि हिचकी आमतौर पर कुछ ही मिनटों में अपने आप चली जाती है, वे कष्टवर्धक हो सकती हैं और खाने और बात करने में बाधा उत्पन्न कर सकती हैं। पेपर बैग में सांस लेने से लेकर एक चम्मच चीनी खाने तक, लोग इनसे छुटकारा पाने के लिए कई तरकीबें लेकर आए हैं। लेकिन वास्तव में कौन से उपाय काम करते हैं?

वैसे तो आपने बहुत कुछ सुना होगा, दादी-नानी कहती है की जब कोई आपको याद करता है तो हिचकी आती है पर व्यवहारिक तौर पर साइंस यह साबित करता है की हिचकी तब आती है जब आपके डायाफ्राम (diaphragm) में अनैच्छिक रूप से ऐंठन होने लगती है। आपका डायाफ्राम एक बड़ी मांसपेशी है जो आपको सांस लेने और छोड़ने में मदद करती है। जब यह ऐंठन होती है, तो आप अचानक सांस लेते हैं और आपकी वोकल कॉर्ड बंद हो जाती है, जिससे एक विशिष्ट ध्वनि उत्पन्न होती है। यह ध्वनि हिचकी होती है।

हिचकी के कुछ कारण :

1. मसालेदार भोजन

2. कार्बोनेटेड ड्रिंक्स

3. तनावग्रस्त या भावनात्मक रूप से उत्साहित होना

4. बहुत अधिक या बहुत जल्दी खाना

हिचकी का इलाज - Hichki Ka Ilaaj In Hindi

स्वयं-देखभाल के उपाय जो कुछ कम-गंभीर मामलों में सहायक हो सकते हैं:

1. कुछ सेकंड के लिए सांस रोक कर रखें (Hold breath)

कुछ सेकंड के अंतराल में सांस रोकने पर आप हिचकी में आराम पा सकते है।

2. पेपर बैग का इस्तेमाल (Paper bag therapy)

एक पेपर बैग में सांस ले और छोड़ें, यह करने से आपको राहत मिल सकती है।

3. ठंडा पानी (sip icy-cold water)

आप सबसे पहले ठंडा पानी पी सकते है, आइसी-कोल्ड वाटर यानी ठंडा पानी हिचकियों को शांत करता है।

4. जीभ को खींचना (pulling tongue out)

हिचकी आने पर आप अपनी जीभ को ऊपर की ओर खीचें, यह आपकी नसों को उत्तेजित करता है जो जीभ को एक हल्का झटका देगा जिससे आपकी हिचकी रुक सकती है।

5. नींबू को चबाना (bitting lemon)

नींबू को चाटने या चबाने से मुँह में खट्टा स्वाद बनेगा व हिचकी में आराम देगा।

6. बर्फ़ीले ठंडे-पानी का गरारा करना (cold-water gargle)

कम से कम 30 सेकंड तक गरारे करें, यह प्रक्रिया एक अंतराल के बाद दोहराई जा सकती है।

7. चीनी खाना (have sugar)

अपनी जीभ पर एक चुटकी दानेदार चीनी डालकर 5 से 10 सेकेंड तक वहीं रहने दें, फिर निगल लें।

8. अपनी छाती को संकुचित करें (chest ko compress kare)

अपनी छाती को संपीड़ित (compress) करने के लिए आगे झुकें, जो आपके डायाफ्राम पर दबाव डालता है।

यदि आपको पुरानी हिचकी है, तो जीवनशैली में बदलाव से मदद मिल सकती है:

कार्बोनेटेड पेय और गैस बनाने वाले खाद्य पदार्थों से बचें।

एक समय पर कम-कम मात्रा का भोजन करें।

हिचकी 48 घंटे से अधिक समय तक रहती है या यदि वे इतनी गंभीर हैं कि खाने, सोने या सांस लेने में समस्या होती है, तो आपको चिकित्सक की आवश्यकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now