Create

मानसून में करें फटी एड़ियों का घरेलू इलाज

मानसून में करें फटी एड़ियों का घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
मानसून में करें फटी एड़ियों का घरेलू इलाज (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

यदि फटी एड़ी के कारण सार्वजनिक स्थानों पर अपने जूते उतारने में शर्मिंदगी महसूस हो रही है तो यह लेख आपके लिए ही है। हम में से ज्यादातर लोग अपने चेहरे की देखभाल करने में बहुत समय लगाते हैं, लेकिन सबसे कम महत्व हमारे पैरों को दिया जाता है, जिसके कारण पैरों का रूखापन और फटी एड़ियों की समस्या भी हो सकती है। आइये इस लेख के माध्यम से मानसून में फटी एड़ियों का घरेलू इलाज (home remedies for cracked heels in monsoon) करें।

मानसून में करें फटी एड़ियों का घरेलू इलाज - Home Remedies For Cracked Heels In Monsoon In Hindi

1. केला (Banana)

केले में प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं जिनमें विटामिन A, B6 और सी शामिल होते हैं जो त्वचा की लोच को बनाए रखने में मदद करते हैं और त्वचा को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखते हैं। केला एक प्राकृतिक मॉइस्चराइजर है जो पैरों को नम रखता है और त्वचा को रूखा होने से बचाता है। उपयोग के लिए - 2 पके केले को मैश करके मुलायम पेस्ट बना लें। कच्चे केले से बचें क्योंकि इसमें एसिड होता है जो त्वचा के लिए अच्छा नहीं होता है। पेस्ट को नाखूनों और पैर के अंगूठे के किनारों सहित पूरे पैरों पर लगाएं। इसे 20 मिनट तक लगा रहने दें और फिर अपने पैरों को पानी से धो लें। सर्वोत्तम परिणाम प्राप्त करने के लिए हर रात सोने से पहले कम से कम 2 सप्ताह तक इसे दोहराएं।

2. शहद (Honey)

शहद को एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक माना जाता है जो फटे पैरों को ठीक करने में मदद करता है। यह एक अच्छा हुमेक्टैंट (humectant) भी है जो त्वचा को नमी देता है और सूखने से रोकता है। शहद के सुखदायक गुण त्वचा को फिर से जीवंत करने में भी मदद करते हैं। उपयोग के लिए - एक टब गर्म पानी में 1 कप शहद मिलाएं। पैरों को साफ करें और इस मिश्रण में डुबोकर 20 मिनट तक आराम से मालिश करें। अपने पैरों को सुखाएं और मॉइस्चराइजर लगाएं। कुछ हफ्तों तक सोने से पहले नियमित रूप से ऐसा करें।

3. वैसलीन और नींबू का रस (Vaseline and lemon juice)

नींबू के अम्लीय गुण, जब वैसलीन के मॉइस्चराइजिंग प्रभाव के साथ मिलते हैं, तो शुष्क त्वचा और फटे पैरों को साफ करने में आसानी होती है। उपयोग के लिए - अपने पैरों को लगभग 15 मिनट तक गुनगुने पानी में डुबोकर रखें और धोकर सुखा लें। 1 चम्मच वैसलीन और नींबू के रस की कुछ बूंदों को मिलाएं। इस मिश्रण को अपनी टखनों और पैरों के अन्य हिस्सों पर अच्छी तरह से लगाएं और रात को सोते समय ऊनी मोजे पहन लें और सुबह पैरों को धो लें। नियमित रूप से सोने से पहले इस सरल प्रक्रिया को करें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment