Create
Notifications

आपके पैर भी हो जाते हैं सुन्न, तो अपनाएं ये अचूक घरेलू इलाज

पैर सुन्न होने का इलाज(फोटो-Sportskeeda hindi)
पैर सुन्न होने का इलाज(फोटो-Sportskeeda hindi)
reaction-emoji
Rakshita Srivastava

बैठे-बैठे या लेटे हुए कई बार हाथों-पैरों में झुनझुनी सी महसूस होती है, ऐसा लगता है कि शरीर का वह हिस्सा सुन्न हो गया है। बता दें कि ऐसा इसलिए होता है क्योंकि किसी एक ही पोजिशन में काफी देर तक बैठे रहने या लेटने से वहां पर ब्लड और ऑक्सीजन की सप्लाई रूकने लगती है, जिसकी वजह से पैर सुन्न (leg numbness) हो जाते हैं। यदि शरीर में रक्त का संचार अच्छी तरह से होने लगे, तो अंग सुन्न नहीं होगा। हालांकि, बार-बार आपको यह समस्या होती है, तो आप कुछ घरेलू इलाज को अपनाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

आपके पैर भी हो जाते हैं सुन्न, तो अपनाएं ये अचूक घरेलू इलाज

1- पैर सुन्न होने पर नारियल तेल (Coconut Oil) और जायफल (nutmeg) का उपयोग काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अगर आप नारियल तेल में जायफल चूर्ण को मिलकार पैर पर लगाते हैं, तो इससे पैर सुन्न होने की शिकायत दूर होती है।

2- पैर सुन्न होने पर सरसों का तेल और तुलसी के पत्तों का रस काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अगर आप सरसों के तेल में तुलसी के पत्तों की कुछ बूंद मिलाकर प्रभावित जगह पर लगाते हैं, तो इससे काफी आराम मिलता है।

3- अगर आपको अक्सर पैर सुन्न होने की शिकायत रहती है, तो आपको नियमित रूप से एक्सरसाइज (excercise) करना चाहिए। क्योंकि एक्सरसाइज करने से शरीर में रक्त का संचार अच्छी तरह से होता है। जिससे हाथ-पैर सुन्न होने की शिकायत भी दूर होती है।

4- अगर आपको पैरों में सुन्नपन महसूस हो रहा है, तो पपील की 3-4 ताजी पत्तियों यानी कोंपलों को सरसों के तेल में अच्छी तरह से पकाएं और फिर सुन्नपन वाले अंग पर लगाएं, इससे सुन्नपन की शिकायत दूर होती है।

5- पैरों में सुन्नपन महसूस होने पर प्रभावित जगह पर गर्म पानी से सिकाई करनी चाहिए। क्योंकि सिकाई करने से ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहता है और मांसपेशियों और नसों को आराम भी मिलता है।

6- हाथ-पैर सुन्न होने पर हल्दी (Turmeric) का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि हल्दी शरीर के ब्लड सर्कुलेशन को सही रखती है। इसलिए अगर आप हल्दी वाले दूध का सेवन करते हैं, तो इससे सुन्नपन की शिकायत दूर होती है।

7- अगर किसी के हाथ-पैर सुन्न रहते हैं, तो हल्के हाथों से मसाज (massage) करनी चाहिए, क्योंकि मसाज करने से ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ता है। मसाज करने के लिए आप जैतून का तेल, नारियल या फिर सरसों के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...