Create

लीवर की बीमारी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे - Liver Ki bimari se chutkara pane ke gharelu nuskhe

लीवर की बीमारी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे
लीवर की बीमारी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे

लीवर की बीमारी का अगर समय पर इलाज न हो तो यह गंभीर समस्या भी बन सकती है। अगर लिवर हेल्दी है, तो यह शरीर को अपने आप डिटॉक्सीफाई कर विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। लिवर में जब फैट जमा हो जाता है तो यह फैटी लिवर बीमारी कहलाता है। लिवर पर कुछ फैट जमा होना सामान्य है लेकिन, अधिक फैट जमा होने से लिवर को सही से काम करने में परेशानी होने लगती है और शरीर के लिए जरूरी पित्त रस, इंसुलिन बनने का प्रोसेस धीमा हो जाता है। फैटी लिवर की समस्या को कुछ घरेलू उपचार के जरिए ठीक किया जा सकता है।

लीवर की बीमारी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे - Liver Ki bimari se chutkara pane ke gharelu nuskhe in hindi

अलसी के बीज (linseed seeds will get rid of liver disease)

फैटी लिवर की बीमारी से छुटकारा पाने के लिए अलसी के बीज को रामबाण उपाय माना गया है। अलसी के बीज में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने की क्षमता होती है। ऐसे में अलसी के बीज का रोजाना सेवन करने से इसमें लाभ मिलता है। इसके लिए अलसी के बीज के पाउडर को पानी के साथ ले सकते हैं।

हल्दी (Turmeric is beneficial in liver problem)

हल्दी अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण के लिए जानी जाती है। एक शोध की माने तो हल्दी लिवर की चोटों से बचाने और शरीर को हानिकारक विषाक्त पदार्थों से बचाने में एक शक्तिशाली घटक है। फैटी लिवर की समस्या में हल्दी का सेवन करना काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

त्रिफला (Liver disease ends with Triphala)

आयुर्वेद में त्रिफला कई दवाओं को बनाने में उपयोग किया जाता है। त्रिफला का रस पाचन को नियंत्रित करने और मल त्याग में मदद करता है। लिवर की समस्या में त्रिफला काफी असरकारी माना गया है। क्योंकि, यह पाचन को बढ़ावा देकर लिवर पर विषाक्त तनाव को कम करता है।

लहसुन (Garlic is beneficial for the liver)

लहसुन जीवाणुरोधी कारकों और सेलेनियम से भरा हुआ है। लहसुन लीवर के डिटॉक्स एंजाइम को सक्रिय करता है और प्राकृतिक रूप से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। ऐसे में इसका सेवन करना भी लिवर के लिए काफी सकारात्मक साबित हो सकता है।

आंवला (Amla for liver problem)

आंवले में मौजूद क्वेरसेटिन फाइटोकेमिकल, लिवर की कोशिकाओं के स्ट्रेस को कम करने में मदद करती है। इसमें मौजूद विटामिन-सी, लिवर को दुरुस्त रखने में मदद करती है। इसके लिए आंवले के जूस को गर्म पानी में डालकर फैटी लिवर की समस्या से निजात मिल सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment