Create
Notifications

आंतो को साफ रखने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे - Home Remedies To Keep The Intestine Clean

आंतो को साफ रखने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
आंतो को साफ रखने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar
visit

आज के समय के लोगो की जीवनशैली के चलते खान-पान पर काफी दुष्प्रभाव पड़ा है। खराब खान-पान के कारण पेट साफ़ नहीं हो पाता है या अपच की समस्या होने लगती है। पेट साफ ना होने की वजह से शरीर में कई तरह की गंभीर समस्याएं होने लगी हैं। पेट साफ ना होने के कारण गैस, अपच और पाचन तंत्र में गड़बड़ी होने लगती है। इससे शरीर को कई नुकसान होते हैं। आंतों की सफाई का मतलब उसमें मौजूद विषाक्त पदार्थों और परजीवियों को हटाना है। खाना हमारी आंतों में जमा हो जाता है, ऐसे में आंतों को साफ रखना बहुत ही जरूरी हो जाता है। इस लेख में हम आपको आंतो को साफ़ रखने के घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं। आइये इस विषय में और जानकारी प्राप्त करें।

आंतो को साफ रखने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे - Home Remedies To Keep The Intestine Clean In Hindi

पानी और नमक (Salt water)

पेट संबंधी समस्याएं होने पर आंतो की ख़ास सफाई की ज़रुरत होती है, ऐसे लोगों के लिए पानी और नमक के घोल का उपयोग फायदेमंद है। कुछ योग मुद्राओं के साथ यदि पानी में नमक मिलाकर पिया जाए तो इससे आंतों की सफाई आसानी से की जा सकती है। सुबह खाने से पहले दो चम्मच नमक को गुनगुने पानी में मिलाकर पिएं, यह लाभदायक हो सकता है।

जूस का सेवन (Vegetable Juice)

सब्जियों के जूस को कोलन क्लीनर माना जाता है। सब्जियों के जूस में फाइबर और पोषक तत्व होते हैं, जो पाचन को लाभ पहुंचाते हैं। वे शरीर को हाइड्रेट करने में भी सहायक होते हैं। विटामिन C मलाशय को साफ करने में मदद कर सकता है। जूस के मिश्रण में मिलाए जाने वाले बहुत सारे फलों और सब्जियों में विटामिन C पाया जाता है।

हर्बल टी का सेवन (Herbal Tea)

हर्बल टी, मलाशय की साफ-सफाई में सबसे सहायक हो सकती है। साइलियम, एलोवेरा, मार्शमैलो रूट आदि में लैक्सेटिव की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो कब्ज में मदद करने के साथ आंतों को साफ करने में सहायक हो सकती है।

फाइबर युक्त फलों का जूस (Fruit Juice)

पेट से संबंधित समस्या होने पर आंतो की सफाई ज़रूरी होती है। आंतो की सफाई के लिए उन फलों या सब्जियों के जूस का सेवन अधिक करना चाहिए जो फाइबर से भरपूर हों। सेब, केले, गाजर, ब्रोकली जैसी चीजों के सेवन और मिक्स-वेजिटेबल जूस पीने से आंत साफ रहती है और पाचन में सुधार होता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now