Create
Notifications

नेत्र रोग घरेलू उपचार: Net Rog Gharelu Upchaar 

आँखों की रौशनी जाने ना पाए और अगर आपकी आँखों की रौशनी में कोई परेशानी है तो आपको इन उपायों को करना चाहिए (फोटो: Top X 10 best YouTube)
आँखों की रौशनी जाने ना पाए और अगर आपकी आँखों की रौशनी में कोई परेशानी है तो आपको इन उपायों को करना चाहिए (फोटो: Top X 10 best YouTube)
Amit Shukla
visit

आँखों को हम सब एक अंग की तरह ही समझते हैं जबकि ये उससे कहीं अधिक हैं। आँखों को उन पांच इन्द्रियों में जगह मिली है जो आपके शरीर को कई काम करने का मौका देती हैं। दुनिया को देखना भी उनके काम का हिस्सा है लेकिन इनका काम सिर्फ ये नहीं है। आँखों के अंदर मौजूद गुणों के बारे में और उससे जुड़े विकारों को ठीक करने के बारे में हम इस आर्टिकल में बात करने वाले हैं।

जिस तरह से पेट सेहत का केंद्र है उसी तरह से आँखें इन्द्रियों का केंद्र है। शरीर में हर इंद्री को सबसे पहले जानकारी देने वाले इस अंग का ध्यान ना रखकर आप खुद के लिए नुकसान की स्थिति बना रहे हैं। यही वजह है कि आँखों पर ध्यान देना बेहद जरूरी है। वैसे भी अगर आँखें ही नहीं होंगी तो आप भला क्या और कैसे देखेंगे?

यदि आपके सामने खड़ा कोई इंसान आप पर वार करने वाला है, तो उसकी जानकारी सबसे पहले आँखों को होती है जिसकी जानकारी वो दिमाग को भेजते हैं। इसके बाद दिमाग के निर्देश पर आपके शरीर के प्रोटेक्टिव मोड के तंत्र तैयार होते हैं। उसी प्रकार से अगर आपके सामने कोई खाने की अच्छी चीज रख रहा है या नहीं इसकी जानकारी भी आपको सबसे पहले आँखों से होती है। इसके बाद बाकी अंग एक्टिवेट होते हैं। अगर आप भी आँखों से जुड़ी किसी परेशानी से दो चार हो रहे हैं तो आइए आपको उससे जुड़े बचाव और ठीक करने के सुझाव साझा करते हैं जिनका इस्तेमाल करके आप ठीक हो सकते हैं।

नेत्र रोग घरेलू उपचार: Net Rog Gharelu Upchaar

घी की कुछ बूँदें डालने से होता है लाभ: Ghee helps in curing issues

जी हाँ, आप सोच सकते हैं कि इतना वजनी और बेहद अलग सा लगने वाला घी भला आपकी मदद कैसे कर सकता है। आपको बताते चलें कि घी में आँखों में मौजूद बीमारी एवं धुल इत्यादि के कण दूर करने का माद्दा होता है। ये बात ध्यान रखें कि इसकी एक बूँद भी काफी होगी इसलिए बेवजह इसकी मात्रा ना बढ़ाएं।

काजल: Kajal

काजल को सिर्फ आँखों का निखार बढ़ाने के लिए नहीं इस्तेमाल किया जाता है। इसके इस्तेमाल से आप अपनी आँखों की रौशनी को ठीक कर सकते हैं। अगर आपको ध्यान हो तो दिवाली की रात आपकी आँखों की पुतलियों पर काजल लगाया जाता है जो आँखों में मौजूद हर खराब तत्व को बाहर कर देती है और आँखों की रौशनी को भी बढ़ाती है।

हरी घास पर नंगे पैर चलना: Walk barefoot on green grass

अगर आप भी ये सोचते रहे हैं कि आखिरकार हरी घास पर नंगे पैर चलने से आपकी आँखों की रौशनी कैसे ठीक हो सकती है तो आइए उसके बारे में हम आपको बताते हैं। आपके शरीर के तलवों पर हड्डियाँ, मांसपेशियाँ और नसें हैं जिनका जुड़ाव आपकी स्पाइनल कॉर्ड और दिमाग से होता है।

ऐसे में जब आप घास पर नंगे पैर चलते हैं तो उस दौरान आप पैर की उन मांसपेशियों की हल्की मसाज कर रहे होते हैं जो आगे जाकर आँखों से जुड़ती हैं। हल्की मसाज और हरी घास में मौजूद अच्छे तत्व तलवों के माध्यम से आपकी आँखों से जुड़ी नसों का हिस्सा बन जाते हैं और आपको लाभ देते हैं।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए है, इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रुप में नहीं लिया जा सकता। कोई भी स्टेप लेने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर कर लें।)


Edited by Amit Shukla
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now