Create
Notifications

पैर की नसों का घरेलू इलाज: Pair Ki Nason Ka Gharelu Ilaaj 

पैर की नसों में दर्द होने पर मुश्किल बढ़ जाती है (फोटो: Lybrate)
पैर की नसों में दर्द होने पर मुश्किल बढ़ जाती है (फोटो: Lybrate)
Amit Shukla
visit

पैर की नसों में अगर दर्द हो रहा है तो इसके कई कारण हो सकते हैं। एक सबसे बड़ा कारण ये है कि नसों और खासकर पैर में खून का बहाव कम हो गया है। इसकी वजह से इंसान को परेशानी पेश आ सकती है जो एक अच्छी बात नहीं है। ऐसे में अगर आप चाहें तो अपनी सेहत को ठीक करने के लिए कई इलाज कर सकते हैं।

एक है डॉक्टरी इलाज जिसमें आप दवाइयों का सेवन करके इस परेशानी को ठीक कर सकते हैं। ऐसा भी कई बार होता है कि पैर की नसों में कोई दर्द नहीं होता है लेकिन आपको अपने पैर महसूस ही नहीं हो रहे होते हैं। इसके पीछे एक बड़ा कारण ये हो सकता है कि नसों के अंदर संवाद बंद हो गया है जिसकी वजह से उसे कोई जानकारी नहीं मिल पा रही है।

पैर हमारे शरीर का भार उठाते हैं और पंजे उस भार को एक बड़े स्तर पर बाँट देते हैं। ऐसे में इस परेशानी के होते ही आपके लिए एक दिक्कत ये खड़ी हो जाती है कि इससे आप मुँह के बल गिर सकते हैं। इस स्थिति में चोट की अवस्था और उसका प्रभाव बढ़ जाएगा जो एक अच्छी बात नहीं है। आइए आपको उन घरेलू उपायों के बारे में बताते हैं जिन्हें करके आप इस परेशानी को दूर कर सकते हैं।

पैर की नसों का घरेलू इलाज: Pair Ki Nason Ka Gharelu Ilaaj

पुदीने के तेल का इस्तेमाल: Use Peppermint Oil

पुदीने में एंटी ऑक्सीडेंट्स (Anti Oxidants) होते हैं। ये पुदीने को बाकी कई चीजों से बेहतर बनाते हैं। जब आप इसका तेल इस्तेमाल करते हैं तो वो गुण उस तेल का हिस्सा बन जाते हैं। ऐसे में जब आप इसे अपने पैर की नसों पर लगाते हैं तो उससे नसें आराम महसूस करती हैं जिसकी वजह से परेशानी नहीं होती है और आपको अच्छा लगता है।

गाय के दूध का सेवन करें: Drink Cow Milk

गाय के दूध में कई मिनरल्स जैसे आयरन, एवं फॉस्फोरस पाया जाता है। नसों में खून का बहाव हो या उनमें कोई तनाव हो तो उसे ठीक करने के लिए आप गाय के दूध का सेवन कर सकते हैं। आप इसके साथ मिश्री एवं घी में ले सकते हैं लेकिन अगर आप किसी अन्य बीमारी के कारण ऐसा ना कर सकें तो भी मिश्री का सेवन किया जा सकता है।

योग से करें इस परेशानी को दूर: Yog relives vein pain in the legs

यदि आपने योग के बारे में सुना होगा तो अनुलोम विलोम एवं कपालभाति के बारे में जरूर सुना होगा। आप अनुलोम विलोम से भी पैर की नसों को आराम दिला सकते हैं। वहीं कपालभाति भी एक अच्छा योगासन है। एक योगासन कपालभाति से भी तेज होता है और उसे भस्त्रिका कहा जाता है। इसको करने से आप पैर की नसों और शरीर में अस्थमा जैसी परेशानी को भी ठीक कर सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Amit Shukla
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now