शहद नींबू और अदरक के साथ घर का बना कफ सिरप!

Homemade Cough Syrup With Honey Lemon And Ginger!
शहद नींबू और अदरक के साथ घर का बना कफ सिरप!

सर्दियां शुरू हो चुकी है ऐसे में खांसी काफी परेशान करने वाली हो सकती है, खासकर जब यह रात की अच्छी नींद या उत्पादक दिन में खलल डालती है। हालाँकि बाज़ार में तो कई तरह के कफ सिरप आसानी से उपलब्ध हैं, अपना खुद का घरेलू उपाय बनाना एक प्राकृतिक और प्रभावी विकल्प हो सकता है। शहद, नींबू और अदरक की शक्ति से भरपूर आप आसानी ये से घर पर बने कफ सिरप की एक सरल रेसिपी यहाँ जान सकते हैं।

सामग्री:

शहद:

शहद अपने सुखदायक गुणों के लिए जाना जाता है। यह गले को ढकने, जलन कम करने और आराम को बढ़ावा देने में मदद करता है।

नींबू:

नींबू विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा दे सकता है। वे सिरप में एक ताज़ा स्वाद भी जोड़ते हैं।

नींबू विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है!
नींबू विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है!

अदरक:

अदरक में सूजन-रोधी और जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो इसे श्वसन राहत के लिए एक उत्कृष्ट विकल्प बनाता है। यह गले की खराश को शांत करने और खांसी को कम करने में मदद कर सकता है।

विधि:

सामग्री:

· 1 कप शहद

· 1-2 नींबू का रस

· 1 बड़ा चम्मच ताजा कसा हुआ अदरक

निर्देश:

सामग्री तैयार करें:

-अदरक को धोकर छील लें, फिर इसे बारीक कद्दूकस कर लें.

नींबू से रस निचोड़ लें.

सामग्री को मिलाएं:

एक कटोरे में, शहद, नींबू का रस और कसा हुआ अदरक अच्छी तरह से मिश्रित होने तक मिलाएं।

धीरे से गर्म करें:

आप मिश्रण को धीमी आंच पर सॉस पैन में धीरे से गर्म कर सकते हैं। उबालें नहीं; बस इसे इतना गर्म करें कि मिश्रण करना आसान हो जाए।

youtube-cover

एक जार में रखें:

भंडारण के लिए सिरप को एक साफ, वायुरोधी जार में डालें। इसे तारीख के साथ लेबल करना सुनिश्चित करें।

उपयोग करें की टिप्स:

खुराक:

आवश्यकतानुसार एक से दो चम्मच घरेलू कफ सिरप लें। इसे अकेले लिया जा सकता है या गर्म पानी या चाय में मिलाया जा सकता है।

भंडारण:

सिरप को ठंडी, अंधेरी जगह पर रखें। इसे कई हफ्तों तक चलना चाहिए, लेकिन अगर आप रंग या गंध में कोई बदलाव देखते हैं, तो एक नया बैच बनाना सबसे अच्छा है।

1 वर्ष से कम उम्र के बच्चे:

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि शिशु बोटुलिज़्म के खतरे के कारण 1 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को शहद नहीं दिया जाना चाहिए। उपयुक्त विकल्पों के लिए किसी स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श लें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा