मोटापा कैसे आपके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है?

How can obesity affects your  mental health?
मोटापा कैसे आपके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है?

मोटापा हमेशा किसी श्राप सा देखा जाता है. असल में ये बात सिर्फ किसी के वजन को लेकर नही कही जाती. असल में मोटापा अपने साथ अनेकों बीमारियाँ और व्यक्ति में कई मानसिक दोष लेकर आता है. यदि शोधकर्ताओं की माने तो मोटापा मूड और चिंता विकारों से जुड़ा हुआ है। इसका मतलब यह है कि यदि आप मोटे हैं, तो आपको मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति जैसे अवसाद या चिंता से पीड़ित होने की अधिक संभावना हो सकती है।

आप सोच रहे होंगे कि क्या मोटापा मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बनता है या इसके विपरीत। मोटापे और मानसिक स्वास्थ्य के बीच संबंध की प्रकृति एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होती है। कुछ लोगों के लिए, भावनात्मक संकट अधिक खाने का कारण बन सकता है। भोजन तनाव से निपटने के तरीके के रूप में काम कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप अत्यधिक वजन और मोटापा हो सकता है।

दूसरों के लिए, मोटापा भावनात्मक संकट का कारण बन सकता है। अधिक वजन होने से स्वयं के बारे में नकारात्मक भावनाएँ पैदा हो सकती हैं। अधिक वजन वाले लोगों को भी अन्य लोगों से निर्णय या कलंक का सामना करना पड़ सकता है। ये अनुभव आत्मसम्मान को कम कर सकते हैं। मोटे लोगों को सकारात्मक गतिविधियों में भाग लेने में कठिनाई हो सकती है, जिससे नकारात्मक भावनाओं का सामना करना कठिन हो जाता है। इसके अतिरिक्त, मोटापा अधिक शारीरिक स्वास्थ्य समस्याओं और दर्द से जुड़ा हुआ है, जो तनाव को बढ़ा सकता है।

अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार के लिए टिप्स

आपके वजन और आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के बीच एक मजबूत संबंध है। जीवनशैली में कुछ बदलाव करके आप अपने जीवन के इन क्षेत्रों में सुधार कर सकते हैं।

• स्वस्थ आहार का ही सेवन करें

• अच्छी नींद और स्वच्छता का अभ्यास करें

• हर रोज़ लगभग 1 घंटे व्यायाम करें

• तनाव दूर रखने की कोशिश करें

• मन लगाकर खाने का अभ्यास करें

मोटापे और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के मुद्दों का एक साथ अनुभव करना आम है। कुछ लोगों के लिए, मोटापा कुछ मानसिक स्वास्थ्य स्थितियों को विकसित करने में योगदान दे सकता है, जबकि अन्य के लिए मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं वजन बढ़ने और मोटापे का कारण बन सकती हैं। सौभाग्य से, आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए कुछ कदम उठा सकते हैं जो आपके वजन और मानसिक स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by वैशाली शर्मा
Be the first one to comment